in

झारखंड : CAA के समर्थन में निकली रैली पर फेंके गये पेट्रोल बम, गाड़ियां और दुकानें फूंकीं, धारा 144 लागू

उपद्रवियों ने बिगाड़ा माहौललोहरदगा : नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) व एनआरसी के मुद्दे पर गुरुवार को लोहरदगा का माहौल अराजक हो गया. सीएए और एनआरसी के समर्थन में निकाली गयी रैली पर विरोधी गुट के लोगों ने पथराव शुरू कर दिया. उपद्रवियों ने रैली पर पेट्रोल बम भी फेंके, जिससे अफरा-तफरी मच गयी.  इसके बाद उपद्रवियों ने दर्जनों चारपहिया वाहनों के शीशे तोड़ डाले और मोटरसाइकिलों को आग के हवाले कर दिया. इस घटना में कई लोगों के घायल होने की सूचना है. उपद्रवियों को खदेड़ने और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने पहले आंसू गैस के गोले छोड़े, उसके बाद हवाई फायरिंग की. इस दौरान भगदड़ में कई महिलाओं व बच्चों को भी चोट आयी है. फिलहाल, तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए पूरे शहर में बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है. जिले की उपायुक्त आकांक्षा रंजन ने बताया कि शहर में धारा 144 लगा दी गयी है. जबकि, एसपी प्रियदर्शी आलोक ने शहर में कर्फ्यू लगाये जाने की बात कही है. लोहरदगा की घटना के बाद गुमला के घाघरा ब्लॉक के पास लोग सड़क पर उतर गये और रोड जाम कर दिया.  ललित नारायण स्टेडियम से निकाली गयी थी रैली : नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के समर्थन में शहर के ललित नारायण स्टेडियम से गुरुवार दिन के 11:00 बजे रैली निकाली गयी.  इस रैली में विभिन्न संगठनों के 15 हजार से ज्यादा महिला और पुरुष शामिल थे. रैली को शहर के मुख्य पथ से होते हुए  समाहरणालय मैदान पहुंचना था. रैली में शामिल लोग नारेबाजी करते हुए आगे बढ़ रहे थे. उपायुक्त आकांक्षा रंजन और एसपी प्रियदर्शी आलोक खुद इस रैली के साथ चल रहे थे. इधर, सीएए और एनआरसी के समर्थन में रैली निकाले जाने की सूचना पर विरोधी गुट के लोग पहले से ही पथराव के लिए सड़क के किनारे, बड़ा तालाब के आगे, अमला टोली और राजेंद्र भवन की पास गलियों में तैयार खड़े थे. दिन के 11:30 बजे रैली अमलाटोली के पास से गुजर रही थी. उसी दौरान विरोधी गुट के लोगों ने रैली में शामिल लोगों पर ताबड़तोड़ ईंट-पत्थर फेंकना शुरू कर दिया, जिससे स्थिति बिगड़ गयी. उपद्रवियों ने रैली पर पेट्रोल बम भी फेंका, जिससे अफरा-तफरी मच गयी. लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे. इस बीच उपद्रवियों ने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया. हालात को बेकाबू होते देख एसपी और  डीसी खुद उपद्रवियों की भीड़ में पहुंच गये. दोनों ने उपद्रवियों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन उपद्रवियों ने उनके साथ भी  दुर्व्यवहार शुरू कर दिया. इसके बाद पुलिस ने उपद्रवियों पर आंसू गैस छोड़ना शुरू कर दिया. स्थिति जब पूरी तरह बिगड़ने लगी, तो पुलिस को लगभग 100 राउंड हवाई फायरिंग करनी पड़ी, जिसके बाद भीड़ छंटी.   उपायुक्त और एसपी ने संभाला मोर्चा  इस घटना के बाद पूरे शहर में कर्फ्यू जैसा  माहौल है. इस बिगड़े हुए माहौल को शांत कराने के लिए उपायुक्त आकांक्षा  रंजन, एसपी प्रियदर्शी आलोक खुद मोर्चा संभाले हुए थे. उपद्रवियों से निबटने के लिए काफी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गयी है. सीआरपीएफ के जवान भी गश्ती में लगाये गये हैं.  ललित नारायण स्टेडियम से निकाली गयी थी रैली अमलाटोली चौक पर पहुंचने के बाद शुरू हुआ पथराव रैली में शामिल थे 15 हजार से ज्यादा पुरुष और महिलाएं, इनमें कई महिलाओं के साथ छोटे-छोटे बच्चे भी थेरैली निकलने की सूचना पर पहले से ही पथराव की मुद्रा में सड़कों और गलियों में खड़े थे विरोधी गुट के लोग  पुलिस ने छोड़ा टियर गैस, की हवाई फायरिंग दर्जनों घरों और दुकानों में लगायी आग  उपद्रवियों ने  दर्जनों घरों और दुकानों में आग लगा दी, जिसे बड़ी मशक्कत के बाद बुझाया गया. आइडीबीआइ बैंक, होटल पर्ल, बैंक ऑफ इंडिया सहित सैकड़ों प्रतिष्ठानों पर पथराव कर   क्षतिग्रस्त कर दिया गया. रैली में शामिल लोग भयवश दूसरे के घरों में छुप गये. उपद्रवियों ने कई ऐसे घरों में आग लगा दी, जहां लोग छुपे थे. पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद सभी को सुरक्षित निकाला. रैली में काफी संख्या में महिलाएं और  बच्चे भी थे. पथराव में इन बच्चों को भी चोटें आयी  है. इसके अलावा कई पुलिसकर्मियों को भी चोट लगी है, जिनका इलाज सदर अस्पताल में किया  जा रहा है.  घाघरा में गुस्सा, दो घंटे जाम रहा चांदनी चौक गुमला : लोहरदगा में गुरुवार को निकाली गयी रैली पर पथराव की घटना से घाघरा प्रखंड के लोग आक्रोशित हैं. आक्रोशित लोगों ने दोपहर 3:00 बजे घाघरा के चांदनी चौक को जाम कर दिया.  सड़क जाम कर रहे लोग ‘भारत माता की जय…’ के नारे लगा रहे थे. मौके पर दल-बल के साथ पहुंचे थाना प्रभारी उपेंद्र महतो ने लोगों को समझाकर शाम पांच बजे जाम हटवाया. उन्होंने लोगों से संयम बनाये रखने की अपील की. कहा कि पुलिस द्वारा उपद्रवियों पर विधिसम्मत कार्रवाई की जा रही है. जाम खत्म होने के बाद भी देर शाम तक लोग विरोध प्रदर्शन में चांदनी चौक पर धरना दिये बैठे थे. 

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

सीएए और एनसीआर के विरोध में 50 से ज्यादा मुस्लिम भाजपाइयों ने पार्टी से इस्तीफा दिया

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम में अमेरिकी समाजसेवी बोले- मोदी भारत को हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं