in

Delhi Election 2020 LIVE: 6 घंटे के बाद आया सीएम केजरीवाल का नंबर, अब दाखिल कर रहे हैं नामांकन

विधानसभा चुनाव 2020 के मद्देनजर मंगलवार को नामांकन करने का अंतिम दिन है इसलिए तेजी से नामांकन प्रक्रिया जारी है।…

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के मद्देनजर मंगलवार को नामांकन करने का अंतिम दिन है, इसलिए तेजी से नामांकन प्रक्रिया जारी है। नई दिल्ली विधानसभा सीट पर केजरीवाल के अलावा 35 से अधिक प्रत्याशी नामांकन करने पहुंचे हैं, वहीं बारी के इंतजार में अरविंद केजरीवाल को टोकन नंबर 45 मिला है।

इस बीच आम आदमी पार्टी के विधायक सुरेंद्र दिल्ली कैंट से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन करने पहुंचे हैं। दरअसल, AAP ने उनका टिकट काट दिया है, ऐसे वह निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर नामांकन करेंगे। नामांकन से ठीक पहले उन्होंने सीएम अरविंद केजरीवाल को अपना इस्तीफा भेज दिया है। इसमें उन्होंने लिखा है- ‘मैं कमांडो सुरेंद्र सिंह आम आदमी पार्टी से रिजाइन करता हूं और मुझे सभी कार्यभार से मुक्त किया जाए।’  

आम आदमी पार्टी मुखिया मंगलवार को डीएम दफ्तर में नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया पूरी कर रहे हैं। वहीं, बाहर हंगामा चल रहा है। दरअसल, अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बड़ी संख्या में निर्दलीय प्रत्य़ाशी नामांकन करने पहुंचे हैं और अंदर जाने से पहले हंगामा कर रहे हैं। 

मिली जानकारी के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल के खिलाफ बड़ी संख्या में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर डीटीसी कर्मी और अन्य लोग नामांकन करने पहुंचे हैं।

बता दें कि मंगलवार को नामांकन का अंतिम दिन है। आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के 200 से अधिक प्रत्याशी नामांकन करेंगे। ऐसे में नामांकन कार्यालयों में भारी भीड़ उमड़ रही है। 

सीएम केजरीवाल करीब  सवा 12 बजे ही नामांकन करने आ गए थे। वह अन्य प्रत्याशियों के साथ वेटिंग रूम में अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं ।

केजरीवाल को नामांकन करने में 8-9 बज सकते हैं । अभी 26 वां नंबर चल रहा है और केजरीवाल का 45 वा नंबर  हैं।

सीएम केजरीवाल तीन घंटे से नामांकन के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं। भाजपा प्रत्याशी केजरीवाल के बाद नामांकन कर पाएंगे क्योंकि उनको टोकन नंबर 54 मिला है जबकि केजरीवाल का टोकन नंबर 45 है। 

भाजपा प्रत्याशी सुनील यादव को टोकन नंबर 54 मिला है। उन्हें भी अभी तक नामांकन के लिए इंतजार करना पड़ रहा है। 

इस समय 26वां नंबर चल रहा है। सीएम केजरीवाल को टोकन नंबर 45 मिला है। उन्हें नामांकन दाखिल करने में अभी और समय लगेगा। 

नामांकन से पहले सीएम केजरीवाल ने कहा कि हमें हराने के लिए सभी एक हो रहे लेकिन हम शिक्षा और स्वास्थ्य पर कार्य कर रहे हैं।

दिल्ली भाजपा प्रभारी श्याम जाजू ने कहा कि हमने तय किया है कि सुनील यादव अरविंद केजरीवाल के खिलाफ हमारे उम्मीदवार बने रहेंगे। हम आगामी विधानसभा चुनावों में उनकी जीत के प्रति आश्वस्त हैं।

पूर्वी दिल्ली की लक्ष्मी नगर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी अभय वर्मा और कोंडली से कांग्रेस उम्मीदवार अमरीश गौतम गीता कॉलोनी एसडीएम कार्यालय में नामांकन दाखिल करने पहुंचे।

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी नई दिल्ली विधानसभा सीट से किसी बड़े नेता को उतार सकती है। इसके लिए भारतीय जनता पार्टी के नए अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार रात घोषित किए गए प्रत्याशी सुनील यादव को बातचीत के लिए बुलाया है। 

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के तहत मंगलवार को नामांकन का अंतिम दिन है। केजरीवाल भी थोड़ी देर बाद नामांकन करेंगे।

भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार रात 1:30 बजे बचे 10 प्रत्याशियों के नामों का एलान किया है, जिसमें सुनील यादव सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भाजपा प्रत्याशी हैं।

मंगलवार सुबह कांग्रेस पार्टी ने भी बाकी बची पांच सीटों पर उम्मीदवार घोषित किए हैं। 

हरि नगर से भाजपा उम्मीदवार तजिंदर पाल सिंह बग्गा का कहना है कि दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा 50 से अधिक सीटें जीतेगी। ये भय केजरीवाल जी के चहरे पर दिखाई दे रहा है इसीलिए मतदान से 15 दिन पहले दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) कार्यालय में दस्तावेज जलाए गए।

भारतीय जनता पार्टी और अकाली दल (बादल) का 21 साल पुराना गठबंधन दिल्ली में टूट गया है।   शिरोमणि अकाली दल (शिअद बादल) ने विधानसभा चुनाव से अपने को अलग करने का फैसला किया है। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर शिअद अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने अपना मत स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने इसमें मुस्लिमों को भी शामिल करने की मांग की है, लेकिन भाजपा इससे असहमत है। 

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

रेल टिकट के बड़े रैकेट का भंडाफोड़, एजेंट के पास 563 आईडी व 3000 से अधिक बैंक खाते

कर्नाटक में अवैध रूप से रहे रहे बांग्लादेशियों के 200 कच्चे घर ढहाए गए