in

बालासाहेब की कसम खाते हैं कि उन्हीं के कमरे में भाजपा के साथ 50-50 फॉर्मूले पर चर्चा हुई थी

  • शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा- जिस कमरे में शाह-उद्धव की 50-50 की बात हुई, बालासाहेब उसी कमरे से नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद देते थे
  • राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भाजपा, शिवसेना और राकांपा को अलग-अलग सरकार बनाने का न्योता दिया था, तीनों ही पार्टियां इसमें नाकाम रहीं
  • राज्यपाल की सिफारिश पर 12 अक्टूबर को महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगा दिया गया

महाराष्ट्र में सियासी उठापठक के बीच गुरुवार को शिवसेना सांसद संजय राउत ने एक बार फिर भाजपा पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भाजपा के साथ 50-50 फॉर्मूले पर बात हुई थी। उद्धव ठाकरे और अमित शाह के बीच यह बात जिस कमरे में हुई थी, वह सामान्य कमरा नहीं है। वह पूज्य बालासाहेब ठाकरे का कमरा है, जिसे हम मंदिर मानते हैं। हम बालासाहेब की कसम खाते हैं। हम झूठ नहीं बोल रहे।

उन्होंने यह भी कहा कि शिवसेना प्राण जाए, पर वचन न जाए वाले सिद्धांत की पार्टी है। यह महाराष्ट्र के सम्मान की बात है। ये वही कमरा है, जहां से बालासाहेब नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद दिया करते थे। यह वही कमरा है जहां से विश्व में कोई भी नेता आता है तो चाहता है कि उस कमरे में बालासाहेब का नमन करे।

महाराष्ट्र में सियासी उठापठक के बीच गुरुवार को शिवसेना सांसद संजय राउत ने एक बार फिर भाजपा पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भाजपा के साथ 50-50 फॉर्मूले पर बात हुई थी। उद्धव ठाकरे और अमित शाह के बीच यह बात जिस कमरे में हुई थी, वह सामान्य कमरा नहीं है। वह पूज्य बालासाहेब ठाकरे का कमरा है, जिसे हम मंदिर मानते हैं। हम बालासाहेब की कसम खाते हैं। हम झूठ नहीं बोल रहे।

उन्होंने यह भी कहा कि शिवसेना प्राण जाए, पर वचन न जाए वाले सिद्धांत की पार्टी है। यह महाराष्ट्र के सम्मान की बात है। ये वही कमरा है, जहां से बालासाहेब नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद दिया करते थे। यह वही कमरा है जहां से विश्व में कोई भी नेता आता है तो चाहता है कि उस कमरे में बालासाहेब का नमन करे।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और मेडिकल राउंड का एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड

राफेल पर पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट में ख़ारिज