in

राकांपा-कांग्रेस से हाथ मिलाने से नाराज 400 शिवसैनिकों ने भाजपा का दामन थामा

शिवसेना को बुधवार को एक बड़ा झटका लगा है। धारावी में पार्टी के 400 कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है। ये सभी शिवसैनिक कांग्रेस और राकांपा के साथ मिलकर सरकार बनाने से नाराज थे। 

कार्यकर्ताओं ने इसलिए छोड़ी शिवसेना
शिवसेना में विशेष कार्यकारी अधिकारी के रूप में काम कर चुके रमेश नादसन ने बताया- “पार्टी के चार सौ समर्थक भाजपा में शामिल हो गए हैं। क्योंकि उन्हें लगा कि जब शिवसेना भ्रष्ट और हिंदू विरोधी दलों से हाथ मिला चुकी है।” नादसन भी उन 400 लोगों में शामिल हैं। उन्होंने आगे बताया- ‘मैं पार्टी के साथ इसलिए जुड़ा था क्योंकि हिंदुत्व उनके लिए सबसे बड़ा मुद्दा था।’  

उन्होंने कहा कि सिर्फ 400 पार्टी कार्यकर्ता ही नहीं, बल्कि कई अन्य लोग भी शिवसेना से नाखुश हैं। वे जल्द ही भाजपा का हिस्सा बनने वाले हैं। उन्होंने कहा, ‘कोई भी समर्थक की भावनाओं को नहीं समझता है, जो वास्तव में पार्टी के लिए काम करता है। पिछले सात वर्षों में हम राकांपा और कांग्रेस के खिलाफ लड़ रहे थे। चुनावों के दौरान हमने घर-घर जाकर पार्टी के लिए वोट मांगे। अब हम उन्हीं लोगों का कैसे सामना करेंगे, जिन्होंने ईमानदार सरकार के लिए वोट किया था।’

एक अन्य शिवसेना कार्यकर्ता ने कहा,’हम राकांपा और कांग्रेस के साथ जाने के शिवसेना के फैसले से दुखी है। हम पार्टी इसलिए छोड़ रहे हैं क्योंकि शिवसेना ने अपना मूल एजेंडा यानि हिंदुत्व का मुद्दा छोड़ दिया है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

INN News Special – Crime & Prevention

सरकार का फैसला – नागपुर में संघ से जुड़े एक ट्रस्ट को दी जाने वाली स्टाम्प ड्यूटी माफी के फैसले पर रोक