in

रूस से 12 सुखोई और 21 मिग-29 खरीदने के प्रस्ताव को रक्षा मंत्रालय की मंजूरी, 18 हजार करोड़ रु. खर्च होंगे

रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को रूस से 33 फाइटर जेट खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। 18 हजार 148 करोड़ रुपए के इस प्रपोजल के तहत रूस से 12 सुखोई-30एमकेआई और 21 मिग-29 खरीदे जाएंगे। इसके अलावा देश में मौजूदा 59 मिग-29 को अपग्रेड भी किया जाएगा।

नेवी-एयरफोर्स को मिलेगी एयर टू एयर मिसाइल अस्त्र
रक्षा मंत्रालय ने नेवी और एयरफोर्स के लिए 248 अस्त्र एयर टू एयर मिसाइल खरीदने को भी मंजूरी दे दी है। इसके अलावा डीआरडीओ को एक हजार किलोमीटर तक मार करने वाली क्रूज मिसाइल डेवलप करने को भी मंजूरी दे दी है।

रक्षा मंत्रालय ने डिफेंस के लिए 38 हजार 900 करोड़ रुपए की खरीदारी के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इनमें से 31 हजार 130 करोड़ रुपए की खरीदारी इंडियन इंडस्ट्री से की जाएगी। इसके तहत पिनाका रॉकेट लॉन्चर के एम्युनिशन और बीएमपी कॉम्बैट व्हीकल को अपग्रेड करने की भी मंजूरी दी है। इसके अलावा आर्मी के लिए रेडियो के सॉफ्टवेयर भी खरीदे जाएंगे।

वायुसेना ने हादसों में खोए फाइटर एयरक्राफ्ट

सूत्रों ने कहा कि वायुसेना को कई अलग-अलग हादसों में फाइटर जेट खोने के बाद नए एयरक्राफ्ट चाहिए। पिछले 10 से 15 साल के दौरान वायुसेना ने 272 सुखोई-30 फाइटर जेट का ऑर्डर दिया है। वरिष्ठ अधिकारियों का मानना है कि अब तक जितने एयरक्राफ्ट हासिल किए गए हैं, उनकी संख्या वायुसेना की हैवीवेट एयरक्राफ्ट जरूरतों के लिहाज से मुनासिब है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

नेपाल में सियासी हलचल तेज, राष्ट्रपति से मिलने पहुंचे पीएम ओली; देश को करेंगे संबोधित.

विधायक मेंदोला को मंत्री नहीं बनाने पर समर्थकों का छलका दर्द, बोले- विष तो रमेशजी ने पिया, एक कार्यकर्ता ने आत्मदाह की कोशिश की