in

सुबह 7 बजे से ही स्टेडियम पहुंचने लगे थे दर्शक, 10 बजे तक प्रवेश के लिए लगी थी लाइन

भारत और बांग्लादेश के बीच दो टेस्ट की सीरीज का पहला मैच इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला जा रहा है। मैच के पहले दिन गुरुवार को बांग्लादेश ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। पंचवे ओवर की अंतिम गेंद पर उमेश यादव ने बांग्लादेश को पहला झटका दिया। वहीं 6वें ओवर में ईशान शर्मा ने दूसरा झटका दिया। 18वें ओवर में मोहम्मद शमी ने बांग्लादेश का तीसरा विकेट गिराया।

टेस्ट मैच के लिए दर्शक सुबह सात बजे ही होलकर स्टेडियम पहुंचने लगे थे। 7.30 बजे से दर्शकों का प्रवेश प्रारंभ किया गया। सुबह 8 बजे दोनों टीम स्टेडियम पहुंची। दर्शकों को में युवा वर्ग की संख्या काफी अधिक देखी जा रही है। टेस्ट मैच होने से कई दर्शक आराम से भी स्टेडियम पहुंच रहे हैं, सुबह 10 बजे तक स्टेडियम के सभी प्रवेश द्वार पर दर्शकों की लाइन लगी दिखाई दे रही थी। स्वच्छ इंदौर के संदेश लिखे बैनर पोस्टर भी दर्शकों के हाथों में दिखाई दे रहे है। स्टेडियम के बाहर बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद हैं वहीं टीम इंडिया की टी-शर्ट और भारतीय झंडा, तिरंगी टोपी आदि बेचने वाले भी कारोबार करते दिखाई दे रहे हैं। 

स्टेडियम में दर्शकों को हेलमेट, कैमरा, रेडियो, ट्रांजिस्टर, रेनकोट, इंजेक्शन, पटाखे, कांच की बोतल, टिफिन, लेडीज बैग, हैंड बैग, चाकू, सिगरेट, माचिस, पॉवर बैंक, सेल्फी स्टिक, शराब, नशीले व ज्वलनशील पदार्थ, सिक्के, पानी की बोतल, सिगरेट, गुटखा पाउच, कोई भी ठोस या मेटल की वस्तु नहीं ले जाने दी जा रही है। केवल मोबाइल और पर्स ले जाने की ही अनुमति है। पीने के पानी के लिए एमपीसीए ने अंदर फ्री में व्यवस्था की है।  

सुरक्षा : 1200 पुलिस जवान तैनात मैच के लिए पुलिस के 1200 जवान तैनात किए गए है। 200 जवान सिर्फ खिलाड़ियों की सुरक्षा व्यवस्था में उन्हें होटल से स्टेडियम लाने-ले जाने में तैनात है। इसके अलावा पूरे स्टेडियम को सीसीटीवी सर्विलेंस सिस्टम से सुरक्षित किया है। यहां सीसीटीवी के हाई रिजाॅल्युशन कैमरों से नजर रखी जाएगी।

 

होटल से 10 मिनट में स्टेडियम पहुंच गई टीमेंखिलाड़ियों को मैरियट और रेडिसन हाेटल में ठहराया गया है। दाेनाें टीमें गुरुवार सुबह पाैने अाठ बजे हाेटल से बसाें से रवाना हुई अाैर सात बजकर 55 मिनट पर स्टेडियम पहुंची। इन्हें विजय नगर होते हुए बीआरटीएस की मेन लेन में से पलासिया चाैराहे से एमजी राेड पर हाई काेर्ट तिराहे से लैंटर्न चाैराहा हाेते हुए स्टेडियम ले जाया गया। मैच खत्म होने के बाद शाम साढ़े पांच बजे इसी रूट से वापस होटल ले जाया जाएगा।

 एमआईसी सदस्य, पार्षदों के लिए दाे-दाेमैच के पास को लेकर निगम पार्षदों को इस बार भी निराशा मिली। एमपीसीए ने पार्षदों और एमआईसी सदस्यों के लिए सिर्फ दो-दो पास ही दिए हैं। पहले पार्षदों को तीन-चार और एमआईसी सदस्यों को पांच-पांच पास दिए जाते थे। इसे लेकर नेताओं में नाराजगी है।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

पढ़े-लिखे और ज्यादा सैलरी वालों में बढ़ रहे तलाक के केस, 70 फीसदी मामले लव मैरिज के

तिवारी जी ने कसम ही खा ली होगी कि कभी कवि के मंचो पर नही जाऊंगा