in ,

इंदौर में 4 नए केस सामने आए, अब 19 हुए कोरोना पाॅजिटिव, इंदौर में लागू हुआ ऑड-ईवन फार्मूला

कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार रात एमजीएम मेडिकल कॉलेज ने 4 और मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की। इसके साथ ही शहर में इस बीमारी के पॉजिटिव मरीजों की संख्या 19 हो गई है। इनमें से दो की मृत्यु हो चुकी है, जबकि 17 का उपचार चल रहा है। वहीं, प्रदेश मंे अब यह संख्या 34 पहुंच चुकी है। शुक्रवार को जो मरीज पॉजिटिव मिले, उनमें 3 इंदौर के और एक उज्जैन का है। अब तक जितने भी मरीज सामने आए हैं, वे इंदौर और उज्जैन के ही हैं। वहीं, इंदौर में शनिवार से ऑड-ईवन फार्मूले को लागू कर दिया गया।


चिंता की बात ये है कि शहर में जितने सैंपल की जांच हो रही है, उनमें से 20 फीसदी के पॉजिटिव निकल रहे हैं, जो अन्य शहरों के मुकाबले ज्यादा है। शुक्रवार को 63 सैम्पल आए। ये अहम हैं, क्योंकि ये उन्हीं इलाकों के हैं जहां कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। प्रशासन ने नूरानी नगर और लिम्बोदी के 3 किमी हिस्से को कंटेनमेंट एरिया बनाया है, जहां अब लोगों की आवाजाही बंद हो जाएगी। सीएम शिवराज सिंह ने प्रदेश में शराब दुकानें बंद किए जाने के आदेश दिए। साथ ही सीएम ने कहा कि राज्य के बाहर फंसे लोग 0755-2411180 पर मदद मांग सकते हैं। उधर, इंदौर से राजस्थान के डूंगरपुर पहुंचे पिता-पुत्र पॉजिटिव मिले हैं। डूंगरपुर निवासी 38 वर्षीय पिता इंदौर की सोडा वैन में काम करता है और 25 मार्च को ही 8 साल के बेटे के साथ अपने गांव पहुंचा था।

1, 3, 5, 7, 9 नंबर वाले आज निकलें
कर्फ्यू में खरीदी के लिए मिलने वाली छूट में भीड़ को कम करने के लिए प्रशासन की ऑड-ईवन व्यवस्था शनिवार से शुरू कर दी। कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव के मुताबिक, पहले दो दिन ऑड-ईवन लागू रहने के बाद 30 मार्च को कोई भी वाहन बाहर नहीं निकल सकेगा। 31 मार्च को ऑड और 1 अप्रैल को ईवन नंबर वाले वाहन आ सकेंगे। संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी के मुताबिक, ये व्यवस्था 14 अप्रैल तक लागू रहेगी। अनुमति केवल खरीदी वाले समय में रहेगी। जिनके वाहन के नंबर के अंत में 1, 3, 5, 7, 9 है, आज वे ही निकलें।

मरीजों में 23 वर्षीय युवक भी, किसी की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं

  • 60 ‌वर्षीय मरीज श्रीनगर कांकड़ के रहने वाले हैं, एमवायएच में चल रहा उपचार।
  • कोयला बाखल निवासी 42 वर्षीय मरीज एमआर टीबी अस्पताल में भर्ती हैं। संक्रमित के संपर्क में आने की बात सामने आई।
  • 23 वर्षीय युवक गुमाश्ता नगर निवासी है, अरिहंत अस्पताल में भर्ती है। इन्हें भी किसी मरीज से संक्रमण होने की बात पता चली है।
  • 23 वर्षीय युवक उज्जैन का रहने वाला है, माधव नगर अस्पताल उज्जैन में उपचाररत है। दो दिन पहले जिस बुजुर्ग महिला की मृत्यु हुई, उनके रिश्तेदार हैं।

कोरोना अपडेट

  • गुरुवार को एमजीएम की लैब में 52 सैंपल आए थे, उसमें से 3 सही नहीं थे, उनकी जांच फिर से होगी। बाकी 49 में से 45 की रिपोर्ट नेगेटिव आई, जबकि 4 पॉजिटिव निकले।
  • शुक्रवार को 63 नए सैंपल आए, जिसमें एमआर टीबी अस्पताल के 13, एमवायएच के 2, बॉम्बे हॉस्पिटल के 7, मेडिकेयर के 2, सेम्स के 3, भंडारी अस्पताल का 1, मेदांता का 1, देवास के 4, धार के 2, मंदसौर और बड़वानी के 7-7 और उज्जैन के 14 हैं। इनकी जांच शनिवार-रविवार को होगी।
  • एमआर टीबी अस्पताल की ओपीडी में सर्दी-खांसी के 300 से अधिक की जांच की गई।
  • कोरोना के संदिग्ध 19 मरीज सामने आए, जिनमें से 14 को एमटीएच में आइसोलेशन के लिए भर्ती कराया, जबकि 5 को होम आइसोलेट किया।

इंदौर में अब तक

  • कुल सैंपल – 199
  • आज के सैंपल – 49
  • पॉजिटिव -19
  • निगेटिव – 131
  • मौत – 2

इंदाैर के लिए स्पेशल ग्रुप, मनीष सिंह सहित तीन आईएएस तैनात
कोरोना को लेकर इंदौर की स्थिति चिंताजनक हो गई है। इससे निपटने के लिए राज्य शासन ने कार्ययोजना बनाई है। इंदौर में पदस्थ रह चुके तीन आईएएस अफसरों का हाईलेवल स्पेशल ग्रुप बनाया गया है।। वरिष्ठ आईएएस अफसर विवेक अग्रवाल के साथ मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के एमडी मनीष सिंह और डायरेक्टर फूड अविनाश लवानिया को इस ग्रुप में शामिल किया गया है। अग्रवाल इंदौर में कलेक्टर और मनीष सिंह निगमायुक्त रहे हैं। लवानिया भी इंदौर में रह चुके हैं।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

ट्रेन के डिब्बों को आइसोलेशन कोच में बदला जा रहा, मिडिल और सामने की तीनों बर्थ हटाई गईं

दुनिया के सबसे अमीर शहर में कचरे की थैली के मास्क