in

UP में लॉकडाउन का उल्लंघन करने की वजह से 42,359 लोगों पर केस दर्ज, वसूला गया 5.87 करोड़ का जुर्माना

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में लॉकडाउन का उल्लंघन करने के मामले बढ़ते जा रहे हैं. जबकि लॉकडाउन (lockdown) के आदेशों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार कड़ी कार्रवाई कर रही है. यूपी पुलिस ने लॉकडाउन उल्लंघन के आरोप में अब तक 42,359 लोगों के खिलाफ 13,208 मुकदमे दर्ज कर चुकी है.

वसूला गया 5 करोड़ 87 लाख रुपए का जुर्माना अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने शुक्रवार को लखनऊ में संवाददाताओं को बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने के लिए जिन वाहनों का चालान किया गया, उन वाहन मालिकों से 5 करोड़ 87 लाख रुपए का जुर्माना वसूला गया है.

31 लाख से अधिक वाहनों का किया गया चालान अवस्थी ने बताया कि धारा 188 के तहत इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है. कुल एक करोड़ 39 लाख वाहनों की जांच की गई और 31 लाख से अधिक वाहनों का चालान किया गया है. उन्होंने बताया कि आवश्यक वस्तु कानून के तहत 426 लोगों के खिलाफ 344 प्राथमिकी दर्ज की गई है.

देश में मरने वालों की संख्या 199 पहुंचीसंक्रमितों की संख्या 6,412 हुई
गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कारण देश में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर शुक्रवार को 199 हो गई और संक्रमित लोगों की संख्या 6,412 पर पहुंच गई. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अब भी 5,709 लोग संक्रमित हैं, 503 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नहीं- WHO विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अब साफ कर दिया है कि भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नहीं है. डब्ल्यूएचओ ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर जो रिपोर्ट तैयार की गई थी, उसमें थोड़ी गलती हो गई और भारत को भी कम्युनिटी ट्रांसमिशन में दिखा दिया गया. उन्होंने साफ करते हुए कहा कि भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा नहीं है जबकि भारत में क्लस्टर ऑफ केस बढ़े हैं.

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

IMF प्रमुख के बाह्य सलाहकार समूह में शामिल हुए रघुराम राजन

सिंगरौली में रिलायंस पावर प्लांट का एश डैम टूटा, घरों में घुसा मलबा, 5 लोग लापता