in

आकाश चोपड़ा बोले, विराट कोहली को खराब टीम देकर उनसे चमत्कार की उम्मीद मत करो.

भारत के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली की आईपीएल फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कप्तानी के रोल पर बात की है।विराट आईपीएल शुरू होने के बाद लगातार आरसीबी के लिए खेल रहे हैं और साल 2013 से आरसीबी के कप्तानी कर रहे हैं। टीम सिर्फ दो बार 2015 और 2016 में प्लेऑफ तक पहुंची थी। 2016 में आरसीबी फाइनल में पहुंची थी, लेकिन हैदराबाद से उसे फाइनल में हार मिली थी। टीम अभी तक एक भी खिताब अपने नाम करने में सफल नहीं हो सकी है। आरसीबी में विराट कोहली की यात्रा पर बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा है कि सिर्फ एक कप्तान के अच्छा हो जाने से टीम अच्छी नहीं होती और न ही टीम खिताब जीत सकती है।

अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए आकाश ने कहा कि विराट आईपीएल के सफल कप्तानों में से एक नहीं हैं। टीम का प्रदर्शन अब तक अच्छा नहीं रहा है। उन्होंने इसका कारण बताते हुए कहा कि टीम के अच्छा प्रदर्शन करने की सबसे बड़ी वजह सही टीम नहीं चुनना है। अगर आप उनकी टीम देखोगे तो पता चलेगा कि गलती कहां हो रही है। इस टीम में तेज गेंदबाज नहीं हैं तो डेथ ओवर्स में गेंद डाल सकें। टीम में बल्लेबाजी की कमी है जो नंबर 5 और 6 पर बल्लेबाजी कर सके। उन्होंने अपनी इस कमी पर कभी ध्यान नहीं दिया।

उन्होंने आगे कहा कि ये एक टॉप हेवी बैटिंग टीम रही है और हमेशा ही टीम की गेंदबाजी कमजोर रही है। टीम में चहल और एक तेज गेंदबाज से आप क्या उम्मीद कर सकते हैं। ऐसे में अगर वो सही टीम का चयन नहीं करेंगे तो अपने कप्तान विराट से किसी चमत्कार की उम्मीद ना रखें। विराट कोहली इस समय आईपीएल इतिहास के सबसे सफल बल्लेबाज हैं। उन्होंने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाए हैं साथ ही इस लीग में उनके बल्ले से पांच शतक भी निकले हैं। 2016 में उन्होंने चार शतक लगाए थे जबकि लगभग 1000 रन एक ही एडिशन में बनाने का खास रिकॉर्ड भी बनाया था।

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

गलत ट्रेन में बैठकर इंदौर पहुंची चार मासूम बहनें, 110 दिन बाद मिलीं परिवार से.

अमिताभ बच्चन मुंबई के नानावटी हॉस्पिटल में एडमिट किए गए, खुद ट्वीट करके बताया, ”मैं कोरोना पॉजिटिव पाया गया हूं”