in

सेना के ‘आपरेशन मां’ का असर, 50 युवकों ने छोड़ा आतंक का रास्ता

  • अपनी मां से बात करने के बाद परिवार के साथ आए
  • लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लन का दावा- पत्थरबाजी शून्य

लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लन ने कहा है कि कश्मीर में आतंकी संगठनों का नेतृत्व खत्म किया जा रहा है. जैश-ए-मोहम्मद के नेतृत्व का सफाया किया जा चुका है. उन्होंने दावा किया कि लश्कर-ए-तैयबा और हिजबुल मुजाहिद्दीन के के आतंकी न्यूट्रल हो चुके हैं.

जनरल ढिल्लन मंगलवार को आजतक से बात कर रहे थे. इस दौरान लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लन ने कहा कि पत्थरबाजी की घटनाएं शून्य पर पहुंच गई हैं और आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में भी कोई रुकावट नहीं आ रही. उन्होंने कहा कि सेना ने ऑपरेशन मां लांच किया है, जिसके तहत पिछले छह महीने में माताओं से बात करने के बाद 50 सशस्त्र आतंकी सामने आए और दहशतगर्दी का रास्ता छोड़ अपने परिवार के साथ आ गए.

लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लन ने बताया, ताजा इनपुट यह है कि पाक अधिकृत कश्मीर में आतंकी लॉन्च पैड्स पर एकत्रित हो गए हैं. लॉन्च पैड्स आतंकियों से भर गए हैं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान खराब मौसम का लाभ उठाते हुए आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश कर रहा है.

लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लन ने कहा कि सेना अब जिस नई रणनीति पर काम कर ही है, वह आतंकियों को लॉन्च पैड्स और सीमा पर ही मार गिराने की है. उन्होंने उम्मीद जताई कि 2020 की गर्मियों में अधिक पर्यटक कश्मीर पहुंचेंगे और व्यापार को भी बढ़ावा मिलेगा. लेफ्टिनेंट जनरल ढिल्लन ने कहा कि इंटरनेट जीवन बचाने में मदद करता है. सैकड़ों जानें बचाई गई हैं. अब 2जी इंटरनेट व्यापार की सहायता कर रहा है, पाक प्रायोजित आतंक को नहीं.

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

भूलकर भी ना पाले इन पशु – पंछियों को हो सकती है जेल

असदुद्दीन ओवैसी का अनुराग ठाकुर को चैलेंज- भारत में वह जगह बताए जहां आप मुझे गोली मारेंगे, मैं आने को तैयार