in

अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर साधा निशाना, बोले- भाजपा दिल्ली में फ्री बिजली, पानी का विरोध कर रही

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा है कि भाजपा दिल्ली में फ्री बिजली, पानी, शिक्षा, दवा, बस सफर का विरोध कर रही है। हमने भ्रष्टाचार का पैसा बचाकर अपनी दिल्ली के लोगों को ये सुविधाएं दी हैं। केजरीवाल ने अपने ट्वीट में कहा है कि मेरा भाजपा से प्रश्न है- क्या जनता का पैसा चोरी करना ठीक है या चोरी बंद करके उस पैसे से जनता को फ़्री सुविधाएँ देना ठीक है?

बता दें कि इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि इस बार दिल्ली की जनता काम पर वोट देगी। मैंने बीते पांच साल में काम किया है, इसलिए दूसरे दलों के लोग भी मुझे वोट देने जा रहे हैं। वहीं कच्ची कॉलोनियों में रजिस्ट्री को फर्जी बताया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मंगलवार को कनॉट प्लेस में अपने आखिरी टाउनहाल में जनता के सवालों का जवाब दे रहे थे। इस दौरान लोगों से पूछा कि क्या आपके यहां काम हुआ, जनता ने हाथ उठाकर उनका समर्थन किया। केजरीवाल ने कहा कि बीते पांच साल में मैंने जो भी वादे किए थे वह पूरा किया। 

Arvind Kejriwal@ArvindKejriwal

भाजपा दिल्ली में फ़्री बिजली, पानी, शिक्षा, दवा, बस सफ़र का विरोध कर रही है। हमने भ्रष्टाचार का पैसा बचाकर अपनी दिल्ली के लोगों को ये सुविधाएँ दी हैं। मेरा भाजपा से प्रश्न है –

“क्या जनता का पैसा चोरी करना ठीक है या चोरी बंद करके उस पैसे से जनता को फ़्री सुविधाएँ देना ठीक है?”28.6 हज़ार5:04 pm – 11 जन॰ 2020Twitter Ads की जानकारी और गोपनीयता8,497 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, सड़क पानी सभी पर काम किया है। उन्होंने भाजपा के ट्रिपल इंजन वाली सरकार के आरोपों पर भी पलटवार किया। उन्होंने कहा कि हरियाणा में ऊपर से लेकर नीचे तक। यूपी में ऊपर से लेकर नीचे भाजपा वालों की सरकार है। क्या वहां बिजली मुफ्त हुई। दिल्ली में तो हो गई। वहां सड़कें ठीक नहीं हुई, दिल्ली में हुई। वहां 24 घंटे बिजली नहीं मिलती मगर दिल्ली में मिलती है।

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

बंगाल / आयुष्मान भारत और किसान सम्मान योजना लागू न करने पर मोदी का ममता पर तंज- नीति निर्धारकों को ईश्वर सद्बुद्धि दे

शिवसेना के 35 विधायक पार्टी से नाराज, महाराष्ट्र के पूर्व सीएम नारायण राणे का दावा