in

जेएनयू को लेकर अमित शाह का निशाना- जो देश विरोधी नारे लगाएगा, उसे जेल में जाना होगा

जबलपुर, एएनआइ। नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में रैली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं ममता बनर्जी और राहुल बाबा को चुनौती देता हूं कि सीएए के किसी एक प्रावधान का पता लगाकर बताएं कि यह कानून इस देश में किसी से भी उसकी नागरिकता ले सकता है।

उन्‍होंने कहा कि भारत पर जितना अधिकार मेरा और आपका है उतना ही अधिकार पाकिस्‍तान से आए हुए हिंदू, सिख, बौद्ध और ईसाई शरणार्थियों का है। 

जेएनयू का जिक्र करते हुए उन्‍होंने कहा कि जेएनयू में कुछ लड़कों ने भारत विरोधी नारे लगाए, उन्‍होंने नारे लगाए कि भारत तेरे टुकड़े हो एक हजार, इंशा अल्‍ला, इंशा अल्‍ला। उनको जेल में डालना चाहिए या नहीं, डालना चाहिए? जो देश विरोधी नारे लगाएगा, उसका स्‍थान जेल की सलाखों के पीछे होगा।    

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस के वकील कपिल सिब्‍बल कहते हैं कि राम मंदिर नहीं बनना चाहिए, अरे सिब्‍बल भाई जितना दम हो रोक लो, 4 महीनों में आसमान को छूता मंदिर का निर्माण होने वाला है।  

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

शिवसेना के 35 विधायक पार्टी से नाराज, महाराष्ट्र के पूर्व सीएम नारायण राणे का दावा

एनआरसी-सीएए को लेकर विपक्ष की बैठक आज; ममता, मायावती और आप शामिल नहीं होंगी