in ,

धमाका करके 14 मिनट में लूटते थे ATM, गैंग का मास्टरमाइंड कर रहा था IAS की तैयारी.

मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड में पुलिस ने धमाका करके एटीएम लूटने वाले छह आरोपियों को गिरप्तार किया है। खास बात यह है कि इनमें सिविल सर्विसेज की तैयारी में जुटा एक युवक भी शामिल है, जो गैंग का मास्टरमाइंड भी बताया जा रहा है। बाकी सदस्य भी पढ़े-लिखे और टेक्नॉलजी के जानकार हैं। एटीएम लूटने के लिए पकड़े गए आरोपियों के घर से बड़ी मात्रा में जाली करंसी भी मिली है।

दामोह के एसपी हेमंत चौहान ने कहा कि गैंग का मास्टरमाइंड 28 साल का देवेंद्र पटेल को उसके 5 अन्य साथियों के साथ शनिवार को गिरफ्तार किया गया। ये सभी मिलकर जिलेटिन की छड़ों से एटीएम को उड़ाकर लूटते थे। देवेंद्र सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहा था और पिछले साल जून से एटीएम लूटने की घटनाओं को अंजाम दे रहा था। 

एसपी ने कहा, ”आरोपी ने पिछले साल जून में गैंग बनाया और डेटोनेटर के जरिए एटीएम लूटने की शुरुआत की। हाल ही में 19 जुलाई को उन्होंने पन्ना जिले के सिमरिया में एटीएम में विस्फोट करके 23 लाख रुपए लूटे थे।” पुलिस अधिकारी ने यह भी बताया कि देवेंद्र ने एटीएम लूटने के तरीके इंटरनेट के जरिए सीखे थे।

चौहान ने कहा, ”उनमें से अधिकतर शिक्षित हैं और टेक्नॉलजी का अच्छा ज्ञान है। वे दो बाइक पर चेहरा ढंककर आते थे। इनमें से दो लोग एटीएम गार्ड को बंधक बना लेते थे और कैमार पर ब्लैक पेंट स्प्रे कर देते थे। दो लोग डेटोनेटर को बाइक की बैट्री से कनेक्ट करते थे और दो लोग कैश निकालते थे। उन्हें पूरी घटना को अंजाम देने में महज 14 मिनट लगते थे। 

हालांकि, पन्ना में जब उन्होंने एटीएम लूट को अंजाम दिया तो पास की दुकान में लगे सीसीटीवी में पूरी घटना कैद हो गई। चौहान ने कहा, ”पन्ना में अपराध को अंजाम देने के लिए उन्होंने इसी मोडस ओपरेंडी अपनाया, लेकिन एटीएम के सामने दुकान में लगे सीसीटीवी पर उनका ध्यान नहीं गया। पुलिस को इस सीसीटीवी फुटेज से अहम सुराग मिले और आरोपियों को उनके गांव से गिरफ्तार कर लिया गया। 

गैंग के पांच अन्य आरोपियों की पहचान जगेश्वर पटेल, नितेश पटेल, जयराम पटेल, राकेश पटेल और परम लोधी के रूप में हुई। ये सभी दामोह जिले के खजरी गांव के रहने वाले हैं। पुलिस ने इनके कब्जे से 25.57 लाख रुपए कैश, दो देसी पिस्टल, 8 जिंदा कारतूस, डेटोनेटर, 3 लाख के जाली नोट और कलर प्रिंटर जब्त किया है। पुलिस गैंग से इस बात को लेकर पूछताछ कर रही है कि क्या वे जाली करंसी के धंधे में भी शामिल थे।

 

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह कोरोना पॉजिटिव, दो दिन पहले उनके मंत्री हुए थे संक्रमित.

अमेरिका में उठी फिर से लॉकडाउन की मांग, डेढ़ लाख के पास पहुंचा मौतों का आंकड़ा.