in ,

Budget 2020 LIVE Updates – वित्त मंत्री ने कहा- डरावना इंस्पेक्टर राज खत्म हो गया है, GST से अर्थव्यवस्था में सुधार आया

Budget 2020: एक ओर जहां बेरोजगारी चरम सीमा को छू रही तो दूसरी ओर देश की घटती विकास दर बड़ी समस्या है. शुक्रवार को पेश हुए आर्थिक सर्वेक्षण में साल 2020-2021 में जीडीपी 6 से 6.5 फीसदी आंकी गई है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बजट (Budget 2020-21) भाषण पढ़ना शुरू कर दिया है. वित्त मंत्री के रूप में वह दूसरी बार बजट पेश कर रही हैं. लोकसभा ओम बिरला ने उनको बजट पेश करने की मंजूरी देते हुए कहा कि दशक का पहला बजट पेश करने के लिए उनका अभिनंदन. पीली साड़ी पहनकर आई निर्मला सीतारमण ने भाषण की शुरुआत में लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी की अगुवाई में मिली जीत का जिक्र किया है. उन्होंने कहा कि न यह प्रचंड जनादेश था बल्कि स्थाइत्व देने वाला है. GST का जिक्र करते हुए वित्त मंत्री ने अरुण जेटली को याद किया और कहा कि उनकी दूरदर्शिता के चलते GST लागू हुआ और इससे डरावना इंस्पेक्टर राज खत्म हो गया है. उन्होंने कहा कि बैंकिंग सिस्टम सुधार आया है जिससे बैंकों की हालत में सुधार हुआ है. अब तक 40 करोड़ का जीएसटी फाइल हो चुका है.  उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था की बुनियाज मजबूत है और 2014 से 2019 के बीच सरकारी कामकाज में बदलाव आया है. वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार महंगाई को काबू करने में कामयाब हुई है. बीते साल 16 लाख से ज्यादा नए करदाता जुड़े हैं. जीडीपी में हमारा कर्ज अनुपात घटा है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि छोटे और मझोले उद्योगों को राहत मिली है. वित्त मंत्री ने दावा करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने व्यवस्था को बदल डाला है. पीएम मोदी के नारे सबका साथ, सबका विश्वास का जिक्र करते हुए वित्त मंत्री ने पीएम आवास योजना का भी जिक्र किया.

Union Budget 2020 Live Updates:

दो वर्षों में 60 लाख से अधिक करदाताओं को जोड़ा गया : वित्त मंत्री 
2014-19 में FDI बढ़कर 284 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया.  2019 में भारत सरकार का ऋण घटकर GDP का 48.7% रह गया.  साल 2009-14 के दौरान मुद्रास्फीति 10.5% के दायरे में थी अब हम विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं कम जीएसटी दरों के कारण औसत परिवार के मासिक खर्च में लगभग 4% की बचत , दो वर्षों में 60 लाख से अधिक करदाताओं को जोड़ा गया : वित्त मंत्री 

– 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है : निर्मला सीतारमण
हमार देश की दुनिया की 5वीं अर्थव्यवस्था है. अब हर घर अपनी आय का 4 फीसदी बचा लेता है. पहले कुछ लोगों को सारे लाभ मिलते थे. लेकिन हमने यह व्यवस्था बदल दी है. जल संकट से जूझने के लिए 100 जिलों मे कदम उठाए गए हैं.2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है
 

-निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण पढ़ना शुरू किया

वित्त मंत्री ने कहा कि जनादेश हमें आर्थिक स्थाइत्व के लिए भी मिला है. उन्होंने कहा कि सरकार ने बैंकिंग सिस्टम को सुधारा है.-

-बजट को मिली कैबिनेट की मंजूरी

केंद्रीय बजट 2020-21 को कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है. संसद में हुई बैठक में पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण सहित कैबिनेट मंत्री मौजूद थे.

– संसद भवन पहुंची बजट 2020-21 की कॉपियां

संसद भवन बजट 2020-21 की कॉपियां पहुंचा दी गई हैं और इनकी जांच की जा रही है. 11 बजे से संसद में बजट पेश करने की प्रक्रिया शुरू होगी.

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

निर्भया केस – दोषियों के वकीलों की कोर्ट में वो दलीलें जिससे आज होने वाली फांसी टल गई

बजट / राहत: सीतारमण ने कहा- 5 से 7.5 लाख रु की आय वालों को 20% की बजाय 10% टैक्स देना होगा