in

मार्च तक 4 हजार, दिसंबर तक पटना के 15 हजार घरों में पीएनजी से बनने लगेगा खाना

राजधानी की करीब 20 कॉलोनियों के 4000 से अधिक घरों में मार्च तक पीएनजी (पाइप्ड नेचुरल गैस) कनेक्शन पहुंच जाएगा। गेल ने यह लक्ष्य रखा है। इसके लिए पाइप बिछाने का करीब 80 फीसदी का काम हो चुका है। दिसंबर तक फुलवारी, खगौल, सगुना मोड़ होते बेली रोड से गांधी मैदान और आसपास की कॉलोनियों और मोहल्लों के करीब 15 हजार घरों में कनेक्शन दिया जाना है। इसके लिए सगुना मोड़ से इनकम टैक्स तक पाइप लाइन बिछाने का काम चल रहा है। एलपीजी से पीएनजी में करीब 30 फीसदी कम खर्च आता है। 


गेल की ओर से प्रति घर कनेक्शन देने के लिए 6000 रुपए एडवांस रखा गया है। यह पैसा उपभोक्ता का ही रहेगा। जब उपभोक्ता किसी कारण से पीएनजी कनेक्शन नहीं चाहेंगे तो उसे यह राशि वापस कर दी जाएगी। पीएनजी कनेक्शन लेने के लिए 354 रुपए रजिस्ट्रेशन शुल्क लगेगा। बिजली बिल की तरह उपभोक्ता जितनी गैस इस्तेमाल करेगा, उसके हिसाब से बिल मिलेगा।

730 घरों में पीएनजी से बन रहा भोजन 
शहर के जगदेव पथ, आईजीआईएमएस कॉलोनी, एम्स कॉलोनी, बीआईटी कैंपस, राजवंशी नगर, पुनाईचक सहित दस से अधिक कॉलोनियों और अपार्टमेंट के करीब 730 घरों में पीएनजी से खाना बनाया जा रहा है। इन घरों में प्रति माह करीब 300-400 रुपए तक बिल आ रहा है। जिस घर में गैस पर सरकार सब्सिडी देती है, उस घर में पीएनजी से खाना बनाने पर प्रति माह करीब 15 फीसदी की बचत होती है। जिस व्यक्ति के घर में नॉन सब्सिडी गैस सिलेंडर उस घर में प्रति माह पीएनजी यूज करने पर करीब 30 फीसदी की बचत होती है।

पीएनजी ज्यादा बेहतर

एएन कॉलेज के बायोटेक्नोलॉजी विभाग के फैकल्टी डाॅ.मनीष कंठ ने बताया कि पीएनजी एलपीजी से बेहतर होती है। इसकी उच्च फैलाव दर ज्यादा है, जिसकी वजह से हवा में तुरंत विलीन हो जाती है। प्रदूषण भी कम होता है। सस्ता भी पड़ता है। लोगों की सिलेंडर को लेकर आपाधापी नहीं रहेगी।

अगले महीने 1050 घरों में होगा चालू

सबसे पहले राजाबाजार, रूकनपुरा, गोला रोड, एम्स, आईजीएमएस, सगुना मोड़ के क्षेत्रों में फरवरी के अंतिम सप्ताह तक 1050 घरों में पीएनजी चालू होगा। एम्स कॉलोनी में 150 घरों में पीएनजी लेने के लिए रजिस्ट्रेशन कराए जा चुके हैं। रूकनपुरा स्थित वेदनगर में 300 घरों में फरवरी में चालू हो जाएगा। रूकनपुरा स्थित विजय नगर में 200 घरों में फरवरी के अंतिम माह तक, गोला रोड स्थित जलालपुर सिटी में 400 घरों में फरवरी के अंतिम सप्ताह तक चालू करने का लक्ष्य रखा गया है।

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

बस कंडक्टर ने 8 घंटे की नौकरी और बिना कोचिंग के 5 घंटे पढ़ाई कर यूपीएससी परीक्षा पास की

चौथा टी-20 / भारत लगातार दूसरा मैच सुपर ओवर में जीता, न्यूजीलैंड की टीम 7वीं बार सुपर ओवर में हारी