in

धोनी की अगुवाई वाली CSK टीम क्या चार्टर्ड प्लेन से पहुंचेगी दुबई, जानें सारी डिटेल्स.

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। आईपीएल का 13वां सीजन 19 सितंबर से युनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) में खेला जाना है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के साथ मिलकर फ्रेंचाइजी टीमें आईपीएल के फाइनल प्लान पर काम कर रही हैं। कोविड-19 महामारी के दौर में यूएई में इस टूर्नामेंट को कराने को लेकर बीसीसीआई और फ्रेंचाइजी टीमों के सामने तमाम चुनौतियां होंगी। जहां तक बात चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) टीम की है, मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि यह फ्रेंचाइजी टीम मिड अगस्त में यूएई पहुंचकर तैयारियों में जुट जाएगी। महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली यह टीम चार्टर्ड प्लेन से दुबई के लिए रवाना होगी।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में कोविड-19 महामारी के मौजूदा हालात को देखते हुए टीम को चार्टर्ड प्लेन से दुबई पहुंचाया जाएगा। दुबई में बीसीसीआई सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ियों के लिए अलग कैंप लगाएगी, वहीं बाकी भारतीय और विदेशी क्रिकेटर अपनी फ्रेंचाइजी टीमों के ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेंगे। इंसाइडस्पोर्ट की रिपोर्ट के मुताबिक सीएसके की नजर अपने खिलाड़ियों को 8 अगस्त तक दुबई में एकत्रित करने करने पर है। जिससे अगस्त के दूसरे सप्ताह के अंत तक प्रैक्टिस सेशन शुरू किया जा सके।

बीसीसीआई की ओर से निर्देश मिलने का इंतजार

एक सूत्र के मुताबिक, ‘हम 8 अगस्त तक पूरी टीम के साथ दुबई के लिए रवाना होने का लक्ष्य बना रहे हैं, जिससे ट्रेनिंग कैंप दूसरे सप्ताह के अंत से पहले शुरू किया जा सके। ट्रैवल प्लान फाइनल तब किए जाएंगे, जब बीसीसीआई की ओर से हमें सारे निर्देश मिल जाएंगे कि क्या करना है और क्या नहीं करना है। अभी जो परिस्थिति है, उसके हिसाब से हम चार्टर्ड फ्लाइट टीम के लिए बुक कराने पर विचार कर रहे हैं, वो सभी के लिए सबसे सेफ ऑप्शन होगा।’ यह दूसरा मौका होगा जब इस साल होने वाले आईपीएल के लिए धोनी ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेंगे। इससे पहले मार्च की शुरुआत में वो चेन्नई में भी ट्रेनिंग शुरू कर चुके थे, लेकिन कोविड-19 महामारी के चलते आईपीएल को स्थगित करना पड़ा था और धोनी रांची लौट गए थे।

2 अगस्त को होगा फैसला

ज्यादातर क्रिकेटर्स करीब 4 महीने से क्रिकेट से दूर रहे हैं, ऐसे में सभी फ्रेंचाइजी टीमें चाहेंगी कि 19 सितंबर से पहले खिलाड़ियों को तीन हफ्ते के लिए ट्रेनिंग कैंप में हिस्सा लेने का मौका मिल जाए। आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग 2 अगस्त को होनी है, जिसमें फाइनल शेड्यूल, कैंप डिटेल्स, बायो सिक्योर प्रोटोकॉल और बाकी तमाम बातों पर चर्चा होगी और फैसला लिया जाएगा।

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

श्रीराम मंदिर भूमिपूजन के कार्यक्रम में बदलाव, जानिए पीएम मोदी के अलावा और किसका होगा संबोधन.

नई शिक्षा नीति 2020: स्कूलों में 10+2 सिस्टम खत्म, लागू होगी 5+3+3+4 की नई व्यवस्था, समझें क्या है ये.