in ,

लालू फैमिली के ड्रामा में गिरी भाषा की मर्यादा

राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) व ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai) के तलाक (Divorce) मामले में दोनों परिवारों का झगड़ा अब भाषा के निचले स्तर पर गिरता दिख रहा है। बीते दिनों ऐश्वर्या के पिता ने अपनी समधन राबड़ी देवी (Rabri Devi) के लिए आपत्तिजतनक शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया तो लालू की बेटी व राज्ययसभा सांसद मीसा भारती (Misa Bharti) ने ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय (Chandrika Rai) के संस्कार पर सवाल उठाए। साथ ही कहा है कि उनका व उनके पूरे परिवार का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। इसपर चंद्रिका राय ने मीसा को झूठ बोलने वाली बता दिया।

इस बीच लालू प्रसाद यादव व चंद्रिका राय के परिवारों के झगड़े के बीच लालू परिवार की बहू ऐश्‍वर्या राय के सामान सड़क पर पड़े हैं। ऐश्‍वर्या की सास राबड़ी देवी ने ये सामान बहू के मायके भेजा है, जिसे लेने से ऐश्‍वर्या के पिता चंद्रिका राय ने इनकार कर दिया है। ये सामान फिलहाल पटना के शास्‍त्रीनगर थाने में पड़े हैं।

शादी के छह महीने के भीतर ही तलाक का मुकदमा

लालू प्रसाद यादव ने बेटे तेज प्रताप यादव की शादी धूमधाम से की थी। उस वक्त उन्होंने बहू ऐश्वर्या राय की तारीफ में कसीदे गढ़े थे। कहा था कि घर में ‘लक्ष्मीनिया’ बहू आई है। फिर, पति तेज प्रताप संग ऐश्वर्या की वो तस्वीेर भी वायरल हो गई थी, जिसमें दोनों एक साथ साइकिल पर सवारी करते दिखे थे। दोनों के जीवन में सबकुछ ठीक लग रहा था कि अचानक एक दिन भूचाल आ गया। तेज प्रताप ने शादी के छह महीने के भीतर ही तलाक का मुकदमा दायर कर दिया।

घर छोड़ अलग रहने लगे तेज प्रताप

तलाक के इस हाई प्रोफाइल मामले के शुरुआती दौर में ऐसा लगा कि तेज प्रताप को परिवार का समर्थन नहीं मिल रहा है। नाराज तेज प्रताप ने पिता लालू से रोते हुए मुलाकत की और घर छोड़ मथुरा-वृंदावन की राह पकड़ ली। इसके बाद वे तलाक की सुनवाई के दिन ही पटना लौटे, लेकिन कभी घर नहीं गए। तब से तेज प्रताप अपनी मां राबड़ी देवी का घर छोड़कर अलग बंगले में रहने लगे हैं। इस बीच बहू ऐश्वर्या अपनी सास राबड़ी देवी के सरकारी आवास में ही रहीं। बताया जाता है कि तेज प्रताप की शर्त थी कि वे तब तक मां के बंगले में नहीं लौटेंगे, जबतक ऐश्वर्या वहां से जाएंगी नहीं।

लालू फैमिली के ड्रामा में गिरी भाषा की मर्यादा, समधन पर साधा निशाना तो बेटी ने उठाए संस्कार पर सवाल
लालू प्रसाद यादव व उनके समधी चंद्रिका राय के परिवार का कलह अब जग-जाहिर है। आराप-प्रत्‍यारोप के दौर भी शुरू हो चुके हैं। अब आगे-आगे देखिए क्‍या होता है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

BSNL, MTNL को रिवाइव करने के लिए सरकार ने उठाया यह कदम

यहां रानी से हार गए थे शहंशाह अकबर, मां नर्मदा की कृपा से जन्मी थीं रानी रूपमति