in ,

1500 रु. के लिए पूर्व सैनिक के नाबालिग बेटे ने पूरे परिवार को ही खत्म कर दिया

सागर | शराब, महंगे कपड़े, बाइक अाैर माेबाइल के शाैक ने महज 17 साल 5 महीने के किशाेर काे सही-गलत का फर्क भुला दिया। 1500 रुपए के लिए उसने अपने पूरे परिवार को खत्म कर दिया। मकराेनिया में हुए तिहरे हत्याकांड के पीछे रिश्ताें को तार-तार कर देने वाली कहानी सामने आई है। रिटायर्ड सैनिक, उनकी पत्नी और छोटे बेटे की हत्या उनके ही बड़े बेटे ने की थी। 

24 जनवरी की रात  डेढ़ घंटे के अंतराल में तीन हत्याएं

रात 7.30 : रिटायर्ड सैनिक की पत्नी घर में अकेली टीवी देख रही थीं। बड़ा बेटा घर अाया अाैर उनसे 1500 रुपए मांगे। मां ने उसकी गलत हरकताें के कारण रुपए देने से मना कर दिया। अाराेपी ने उन्हीं के दुपट्टे से पहले गला घाेंटा अाैर घर में रखी पिता की लाइसेंसी 12 बाेर की बंदूक से गले पर फायर कर दिया। शव घसीटकर अागे वाले कमरे में डाल दिया।

रात 8.30 : कैंट बाेर्ड अाॅफिस में गार्ड की ड्यूटी कर रिटायर्ड सैनिक घर लाैटे। अंदर घुसते ही अाराेपी ने उन पर दाे फायर किए। पिता की लाश भी घसीटकर उसी कमरे में डाल दी। हत्या के बाद अाराेपी ने फर्श पर पड़ा खून साफ किया अाैर बिखरा सामान भी व्यवस्थित रख दिया। गाेली के खाेखे जूते में छिपा दिए।

रात 10 बजे : अाराेपी काे डर था कि छाेटा भाई किसी काे इस बारे में बता न दे। इसलिए वह घर के गेट पर ताला लगाकर बाहर अा गया।  कोचिंग से लौट रहे छोटे भाई को रास्ते से ही अपने साथ मार्केट ले गया। उसे यहां-वहां घुमाता रहा। घर पहंुचकर छोटे भाई ने पूछा कि मम्मी-पापा कहां हैं तो अाराेपी ने कहा कि मैंने उन्हें मार डाला। वह राेने लगा अाैर बाेला, मैं सबकाे बता दूंगा। अाराेपी ने उसका गला दबा दिया। उसे भी माता-पिता की लाश के साथ डालकर बाहर चला गया।

अगले दिन 5 हजार का नया सूट खरीदा अाैर स्कूल में फेयरवेल पार्टी में शामिल हुअा, होटल में भी पार्टी की
अाराेपी ने हत्याकांड के अगले दिन 5 हजार रुपए का नया सूट खरीदा अाैर स्कूल में फेयरवेल पार्टी में शामिल हुअा। दाेस्ताें के साथ एक हाेटल में पार्टी की अाैर रात भी एक दाेस्त के यहां बिताई। 26 जनवरी काे अार्मी स्कूल में अायाेजित कार्यक्रम में भी वह दाेस्ताें के साथ शामिल हुअा। इसके बाद दिन में वह घर भी गया लेकिन 26 व 27 जनवरी की रात एक दाेस्त के यहां रुका था। 28 जनवरी काे बस स्टैंड पर बाइक रखकर वह रिश्तेदार के यहां ललितपुर चला गया। 29 जनवरी काे वहां से लाैटकर अा गया। मकराेनिया की एक माेबाइल की दुकान पर सिम खरीदने पहुंचा, तभी पुलिस ने उसे पकड़ लिया। उसने पुलिस काे बताया कि वह इंदाैर में ट्रेन से कटकर अात्महत्या करने वाला था ताकि काेई वहां उसे पहचान न पाए। अाराेपी ने घटना के बारे में बिना नाम का एक पत्र भी लिखा था।

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

आज से दो दिन की हड़ताल पर बैंककर्मी, रविवार के चलते लगातार तीन दिन तक बंद रहेंगे बैंक

बस कंडक्टर ने 8 घंटे की नौकरी और बिना कोचिंग के 5 घंटे पढ़ाई कर यूपीएससी परीक्षा पास की