in

गूगल का ऑफिस अब 7 सितंबर तक रहेगा बंद, कोरोना के बढ़ते मामले से कार्यालय को फिर से खोलने का समय दो महीने और आगे बढ़ाया

दिग्गज टेक कंपनी गूगल (Google) ने अमेरिका समेत कई देशों में ऑफिस को 7 सितंबर तक बंद रखने का फैसला लिया है। बता दें कि कंपनी ने 6 जुलाई से दफ्तर खोलने का ऐलान किया था।
इस दौरान कंपनी ने अपने बयान में कहा था कि शुरूआती फेज में कंपनी सीमित संख्या में ही कर्मचारियों को बुलाएगी। हालांकि, कोरोना के बढ़ते मामले से कंपनी ने ऑफिस खोलने का समय आगे बढ़ा दिया है। कंपनी ने बयान में कहा कि परिस्थिति के अनुसार अनुमति मिलने पर रोटेशन प्रोग्राम को और स्केल करके सितंबर तक 30 प्रतिशत क्षमता के साथ ऑफिस शुरू कर देगी।

कंपनी ने कर्मचारियों को मेमो भेजकर दी जानकारी

रायटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, अल्फाबेट कंपनी ने अपने कर्मचारियों को एक मेमो भेजा है। इसमें उन्होंने कर्मचारियों से वर्क फ्रॉम होम यानी घर से काम करने की नसीहत दी है। कंपनी ने कहा है कि जब तक कंपनी ऑफिस आने को नहीं कहेगी तब तक कर्मचारी घर से ही काम करते रहेंगे। कंपनी ने यह कदम वैश्विक सुरक्षा के चलते उठाया है। कंपनी ने कहा कि अब भी कई शहरों में कोरोना के मामले काफी ज्यादा है।

बता दें कि कंपनी ने पहले ही अपने अधिकांश कर्मचारी को सालभर वर्क फ्रॉम होम करने की छूट दी है। साथ ही कंपनी घर से काम करने के लिए कंपनी प्रत्येक कर्मचारी को आवश्यक उपकरण और कायार्लय फर्नीचर खर्च के लिए 1,000 डॉलर का भत्ता या उनके देश के अनुसार बराबर मूल्य भी देने का ऐलान भी कर चुकी है।

दुनियाभर में पिछले 24 घंटे में 1.73 लाख नए केस दर्ज

कोरोना महामारी दुनियाभर में भयावह रूप लेती जा रही है। पूरी दुनिया में एक करोड़ से ज्यादा लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। वर्ल्डोमीटर के मुताबिक, अबतक पूरी दुनिया में कोरोना से एक करोड़ 5 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि मरने वालों की संख्या पांच लाख के पार पहुंच गई है। हालांकि, करीब 58 लाख लोग ठीक भी हुए हैं।
दुनिया के 70 फीसदी कोरोना के मामले सिर्फ 12 देशों से आए हैं। अमेरिका अभी भी कोरोना से प्रभावित देशों की सूची में सबसे ऊपर है। यहां अब तक 27.27 लाख लोग संक्रमण के शिकार हो चुके हैं, जबकि एक लाख 30 हजार से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

Report

What do you think?

Comments

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Loading…

0

मां की गोद में खेलते और खुश होते बच्चे को देख हाई कोर्ट ने बदला कुटुम्ब न्यायालय का फैसला

बागी का दर्द : विधायक भी नहीं रहे ना मिला मंत्री पद अब चुनाव जीतने का बोझ अलग