in

इंदौर पहली और दूसरी तिमाही में देशभर में टॉप पर, स्वच्छ शहर का खिताब चौथी बार हासिल करने से बस एक कदम दूर

  • महापौर गौड़ का ट्वीट- हमारा इंदौर फिर से नंबर 1 आया है, अब मुख्य परीक्षा की घड़ी भी आने वाली है
  • ‘इंदौर लगातार तीन साल से देश के सबसे स्‍वच्‍छ शहर का खिताब हासिल कर रहा है’
  • ‘4 से 31 जनवरी 2020 तक स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 चलेगा, हमें उसमें भी प्रथम आना है’
  • भोपाल पहली तिमाही में दूसरे नंबर पर रहा, जबकि दूसरी तिमाही में 5वें नंबर पर खिसका: रिपोर्ट

केंद्र सरकार ने मौजूदा वित्त वर्ष में स्वच्छता सर्वेक्षण की पहली और दूसरी तिमाही के आंकड़े मंगलवार को जारी किए गए। दोनों में इंदौर देशभर के सबसे स्वच्छ शहरों में टॉप पर रहा। इस सर्वेक्षण में पहली तिमाही में भोपाल नंबर दो पर था, लेकिन दूसरी तिमाही में वह खिसककर 5वें नंबर पर पहुंच गया।

पहली तिमाही में 5वें नंबर पर रहने वाला राजकोट दूसरी तिमाही में छलांग लगाते हुए सीधे दूसरे नंबर पर पहुंच गया। 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले टॉप पांच शहरों में इंदौर के बाद राजकोट, नवी मुंबई, वडोदरा और फिर भोपाल रहा है।

महापौर ने लिखा- स्वच्छता का चौका लगाना है
इसके पहले इंदौर लगातार तीन बार देश के सबसे स्‍वच्‍छ शहर का तमगा हासिल कर चुका है। यानी इस बार इंदाैर का चाैका लगाने का लक्ष्य है। दाे तिमाही में नंबर वन रहने पर महापौर मालिनी गौड़ ने ट्वीट कर खुशी जाहिर की। उन्‍होंने लिखा है कि हमारा इंदौर फिर से नंबर 1 आया है। अब मुख्य परीक्षा की घड़ी भी आने वाली है। 4 से 31 जनवरी 2020 तक स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 चलेगा। हमें उस सर्वेक्षण में भी प्रथम आना है और स्वच्छता का चौका लगाना है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0
ब्रोंक्स पवन टरबाइन के ब्लेड उड़ते हैं, कार और बिलबोर्ड को तोड़ते हैं

ब्रोंक्स पवन टरबाइन के ब्लेड उड़ते हैं, कार और बिलबोर्ड को तोड़ते हैं

लेखन शिक्षक अविरल जैन द्वारा अतिथियों को धन्यवाद एवं प्रतिभागियों को साहित्य की मर्यादा धारण करने के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की गई