in

चुनाव से पहले छलका केजरीवाल का दर्द, बताया किस बात का है मलाल

चुनाव से पहले दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का दर्द छलका है। उन्‍होंने दिल्‍ली की जनता के सामने बताया कि आखिर चुनाव से पहले उन्‍हें किस बात का मलाल रह गया है जो उन्‍होंने पूरा नहीं कर पाया। मौका था सरकार के काम काज का लेखाजोखा पेश करने का। 

पांच साल के रिपोर्ट कार्ड पर चर्चा में हिस्सा लेने जनकपुरी के दिल्ली हाट पहुंचे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के विकास के लिए बजट को 30 हजार करोड़ से बढ़ाकर 60 हजार करोड़ कर दिया। शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन आया है। इससे सरकारी स्कूलों के 96 फीसद परिणाम आए हैं। तीन सौ मोहल्ला क्लीनिक खुल चुके हैं। 1797 कॉलोनियों में से 1281 में नाली, सीवर और सड़क का निर्माण हो चुका है। 93 फीसद घरों में पाइप लाइन से पानी दिया जा रहा है।

24 घंटे रहती है बिजली
दिल्ली को देश का ऐसा पहला शहर बनाया, जहां 24 घंटे बिजली रहती है। डोर स्टेप डिलेवरी शुरू करवाया। डीटीसी की चार हजार नई बसें उतारीं, जो काम रह गए हैं उन्हें चुनाव जीतने के पांच साल के दौरान करा देंगे।

पूर्ण राज्‍य का दर्जा नहीं मिलने का है मलाल

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं मिलने का उन्हें मलाल है। ऐसी देश की राजधानी होती है क्या, जहां एक तरफ दूसरी और दूसरी तरफ तीसरी एजेंसी काम कर रही है।

आडॅ-इवेन रहा सफल

उन्होंने कहा कि दिल्ली में ऑड-इवेन व डेंगू के खिलाफ अभियान लोगों के सहयोग से सफल हुआ। दिल्ली के लोगों के सहयोग से ही अगले पांच साल में यमुना की सफाई कराना प्राथमिकता होगी। उन्होंने कहा कि प्रदूषण और जाम से दिल्ली को मुक्त कराने के लिए 40 किलोमीटर की सड़क को रीडिजाइन किया जा रहा है। यह योजना सफल रही तो सभी सड़कों को दोबारा से बनाया जाएगा। केजरीवाल ने कहा कि सरकार के पास वही पैसे हैं जो जनता ने टैक्स के तौर पर दिया है। उसी में से वे कभी बिजली मुफ्त कर देते हैं तो कभी पानी और कभी बसों में यात्रा। इसी पैसे से वे लोगों को मुफ्त में तीर्थ यात्रा भी करा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब तक 37 लाख लोगों की बिजली मुफ्त थी। दो-तीन माह में 70 हजार और लोगों की बिजली मुफ्त हो जाएगी।

केंद्र सरकार नहीं दे रही रोजगार

केंद्र सरकार देश के लोगों को रोजगार तो दे नहीं सकती, उल्टे बाहर से लोगों को बुलाने की बात कर रही है। इस चुनाव में कांग्रेस भी 600 यूनिट बिजली मुफ्त देने की बात कर रही है। इसके जवाब में केजरीवाल ने कहा कि जिन पांच राज्यों में कांग्रेस की सरकार है, पहले वहां मुफ्त देकर दिखाएं तो फिर दिल्ली की बात करें। जनकपुरी हाट के ओपन थियेटर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मटियाला, उत्तम नगर, द्वारका, जनकपुरी, तिलक नगर, हरिनगर और विकासपुरी विधानसभा क्षेत्र के लोगों के साथ इन क्षेत्रों के विधायक गुलाब सिंह यादव, नरेश बाल्यान, आदर्श शास्त्री, राजेश ऋषि, जरनैल सिंह, जगदीप सिंह और महेंद्र यादव के अलावा पार्षद रमेश मटियाला मौजूद रहे।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

आखिर क्यों झगड़ते हैं अमेरिका-ईरान ; तनाव बढ़ा तो सिर्फ तेल नहीं, खतरे में होंगे 80 लाख भारतीय

13 साल की उम्र में 120 भाषाओं में गाना गाती है ये बच्ची, ग्लोबल चाइल्ड प्रॉडिगी अवार्डस के लिए हुआ चुनाव