in ,

जियो प्लैटफॉर्म्स में अब केकेआर करेगा 11367 करोड़ रुपए निवेश

एक महीने में 5वां बड़ा निवेश

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और जियो प्लैटफॉर्म्स को एक और बड़ा निवेश मिला है। ग्लोबल इन्वेस्टमेंट फर्म केकेआर ने 11,367 करोड़ रुपए निवेश का फैसला किया है। शुक्रवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज की ओर से इसकी घोषणा की गई।

यह केकेआर का एशिया में सबसे बड़ा निवेश है। केकेआर की जियो प्लैटफॉर्म्स में 2.32 पर्सेंट हिस्सेदारी होगी। इससे पहले हाल ही में फेसबुक, सिल्वर लेक, विस्टा, जनरल अटलांटिक ने निवेश किया है। इन 5 कंपनियों ने संयुक्त रूप से अब तक कुल 78,562 करोड़ रुपए का निवेश किया है।

रिलायंस जियो की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जियो प्लेटफॉर्म्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की फुली ओन्ड सब्सिडियरी है। यह नेक्स्ट जेनरेशन टेक्नॉलजी प्लैटफॉर्म है जिसका फोकस भारत में कम कीमत पर उच्च गुणवत्तापूर्ण डिजिटल सर्विस देने पर है। इसके 38.8 करोड़ सब्सक्राइबर्स हैं।

केकेआर एक वैश्विक कंपनी है जिसका टेक्नॉलजी सेक्टर में अच्छा निवेश है। कंपनी ने बीएमसी सॉफ्टवेयर, बाइट डान्स और गोजेक में भी निवेश किया है। कंपनी टेक कंपनियों में 30 अरब डॉलर का निवेश कर चुकी है। कंपनी भारत में 2006 से निवेश कर रही है।

देखें जियो प्लेटफार्म में किस कंपनी ने कितनी खरीदी हिस्सेदारी

कंपनीडील की घोषणानिवेश करोड़ रुपये मेंजियो में हिस्सेदारी (%)
फेसबुक22 अपैल435749.99
सिल्वर लेक4 मई5655.751.15
विस्ता पार्टनर8 मई113672.32
जनरल अटलांटिक17 मई6598.381.34
केकेआर22 मई113672.32
कुल निवेश 78562.1317.12

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन व प्रबंध निदेशक, मुकेश अंबानी ने कहा कि ”दुनिया के सबसे सम्मानित वित्तीय निवेशकों में से एक KKR का एक महत्वपूर्ण साझेदार के रूप में स्वागत करते हुए मुझे प्रसन्नता हो रही है। KKR भारतीय डिजिटल इको सिस्टम में बदलाव की हमारी यात्रा का हमसफर बनेगा। यह सभी भारतीयों के लिए लाभप्रद होगा। KKR, भारत में एक प्रमुख डिजिटल सोसाइटी के निर्माण के हमारे महत्वाकांक्षी लक्ष्य को साझा करता है। एक महत्वपूर्ण भागीदार होने का KKR का ट्रैक रिकॉर्ड शानदार है। हम जियो को आगे बढ़ाने के लिए KKR के वैश्विक प्लेटफॉर्म, इंडस्ट्री की जानकारीयां और परिचालन विशेषज्ञता का लाभ उठाने की उम्मीद करते हैं।”

केकेआर के सह-संस्थापक और को-सीईओ हेनरी क्राविस ने कहा, “कुछ कंपनियों के पास ही देश के डिजिटल इको सिस्टम को बदलने की ऐसी क्षमता होती है जैसा की जियो प्लैटफॉर्म्स भारत में और संभवतः दुनिया भर में कर रहा है। जियो प्लैटफॉर्म्स एक सच्चा स्वदेशी प्लेटफॉर्म है जो भारत में डिजिटल क्रांति कर रहा है और इसके पास देश को प्रौद्योगिकी समाधान और सेवाएं देने की बेजोड़ क्षमता है। हम जियो प्लैटफॉर्म्स की प्रभावशाली गति, विश्व स्तरीय इनोवेशन और मजबूत नेतृत्व टीम के कारण निवेश कर रहे हैं। इस निवेश को हम भारत और एशिया प्रशांत में अग्रणी प्रौद्योगिकी कंपनियों के समर्थन के लिए केकआर की प्रतिबद्धता के रूप में देखते हैं।”

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

कोरोना संकट से बेहाल चीन, देश ने नहीं तय किया वार्षिक जीडीपी लक्ष्य

कराची में लैंडिंग से चंद मिनटों पहले रिहाइशी इलाके में पैसेंजर प्लेन क्रैश