in

लखनऊ में मॉर्निंग वॉक पर निकले विश्व हिंदू महासभा के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष की हत्या, भाई भी घायल

लखनऊ के हजरतगंज इलाके में रविवार को विश्व हिंदू महासभा के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष रणजीत बच्चन की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि रणजीत बच्चन मार्निंग वॉक पर निकले थे। ग्लोब पार्क के निकट एक बदमाश ने उन पर ताबड़तोड़ गोली चला दी।

गोली उनके सिर पर लगी जिससे उन्होंने मौके पर ही  दम तोड़ दिया। घटना के वक्त उनके साथ उनके मोसेरे भाई आदित्य भी थे जिनके हाथ पर गोली लगी और वे घायल हो गए, पुलिस ने इलाज के लिए उन्हें ट्रॉमा सेंटर भेजा।रणजीत बच्चन का शनिवार को जन्मदिन था और शनिवार रात घर उनके घर बर्थडे की पार्टी भी हुई थी। 

विश्व हिंदू महासभा के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष रणजीत बच्चन आशियाना की ओसीआर बिल्डिंग में रहते थे। रंजीत बच्चन मूल रूप से गोरखपुर के गुलहारिया के रहने वाले थे, वे समाजवादी पार्टी के सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किया करते थे। उन्होंने विश्व हिंदू महासभा नामक संगठन बनाया था। जहां एक बदमाश ने हजरतगंज के होटल क्लार्क अवध के सामने ग्लोब पार्क पास उनके सिर में गोली मारी, जिससे मौके पर उन्होंने दम तोड़ दिया। उनके साथ मोसेरे भाई आदित्य भी थे जिसको भी बदमाशों ने गोली मारी जो उनके हाथ पर लगी। आनन-फानन उन्हें ट्रॉमा सेंटर भेजा गया। 

पुलिस छानबीन में जुटी हुई है, शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बता दें कि गत वर्ष सितंबर माह में हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की उनके घर में गला रेतने के बाद गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

पत्नी ने कराई थी एफआइआर 

रणजीत बच्चन पूर्व में थे सपा के कार्यकर्ता। उन्हें सपा सरकार में ओसीआर में आवास मिला था। बताया जा रहा है कि कुछ समय पूर्व पत्नी ने उनके खिलाफ गोरखपुर में एफआइआर दर्ज कराई थी। आज सुबह रणजीत और उनकी पत्नी अलग अलग मॉर्निग वॉक के लिए निकले थे। 

शॉल ओढ़े आदमी ने छीना मोबाइल, चलाई गोली 

संयुक्त पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा ने बताया कि आदित्य श्रीवास्तव ने जानकारी दी थी वे अपने मोसेरे भाई के रणजीत के साथ मॉनिंग वॉक पर ओसीआर से निकले थे। ग्लोब पार्क के पास आगे जाते हुए, एक व्यक्ति ने उन्हें रोका। वे शॉल ओढ़े हुए था उसने उनके पिस्टल लगाकर मोबाइल फोन छीनने का प्रयास किया। इसी झगड़े में गोली में गोली चल गई और रणजीत के सिर में लगी वो मौके पर गिर गए और आदित्य को भी हाथ पर गोली लगी और वो घायल हो गए। 

आठ टीमें गठित 

संयुक्त पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा ने बताया कि 2002 और 09 के बीच रणजीत और उनकी पत्नी कालिंदी निर्मल शर्मा ने साइकिल यात्रा निकाली थी। जिसके लिए उन्हें सम्मानित भी किया गया था। बाद में उन्होंने विश्व हिंदू महासभा नाम से संगठन बनाया था। पति पत्नी के बीच कोई पारीवारिक विवाद भी था। उस पर भी देखा जा रहा है, लूट की घटना को भी देखा जा रहा है। सीसीटीवी फुटेज देखी जा रही है। सिविल पुलिस क्राइम ब्रांच की आठ टीमें घटना की जांच कर रही है। 

सामाजिक अनुभव :

1     1996 से अब तक लगभग 18 वर्ष सामाजिक एव राजनीतिक योगदान ।

2. दल नायक (भारत भूटान) साइकल यात्रा दल ।

3. लिम्का बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड मे नाम दर्ज

4. संस्थापक भारतीय सोशल वेलफ़ेयर फाउंडेशन गोरखपुर उ॰ प्र॰

5. संचालक, कौशल्या आश्रम वृद्धा एवं अनाथ आश्रम गोरखपुर

6. जागरूकता अभियान , जापानी इन्सेफ़्लाइतिरा मतदाता जागरूक

7. महापुरुषों की प्रतिमा का सफाई अभियान, पल्स पोलियो अभियान के साथ साथ समाज के अति पिछड़े, गरीब शोषित के हक के लिए संघर्ष करना

8. राष्ट्रीय अध्यक्ष भारतीय कायस्थ महासभा

9. मेम्बर पत्रकार एसोसिएशन  गोरखपुर

10. भारतेन्दु नाट्य एकेडमी ग्रेडेड आर्टिस्ट सन 2010 से अब तक

11. आल इंडियादूरदर्शन ड्रामा आर्टिस्ट सन 2000 

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

निर्भया केस के दोषियों की फांसी टालने के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचा अभियोजन पक्ष, याचिका पर आज अहम सुनवाई

इस साल राज्यों के हिस्सों पर चली केंद्र की कैंची, मप्र के हिस्से के 14 हजार करोड़ रुपए काटे