in

पाथरी को साईं बाबा का जन्मस्थान बताने से नाराजगी; शिर्डी में आज से बेमियादी बंद, लेकिन मंदिर खुला रहेगा

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा पाथरी को साईं बाबा का जन्मस्थान बताने से नाराज शिर्डी के लोगों ने आज से अनिश्चितकालीन बंद का ऐलान किया है। हालांकि, बंद के कारण साईं भक्तों को परेशान नहीं होना पड़ेगा। साईं बाबा का मंदिर और मंदिर ट्रस्ट से जुड़े साईं आश्रम खुले रहेंगे। साईं मंदिर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक मुगलीकर ने बताया कि इस बंद में मंदिर ट्रस्ट शामिल नहीं है। दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। वहीं, प्रशासन नेनासिक से काफीसंख्या में पुलिस बल शिर्डीमें तैनात किया गया है।

शिर्डी और आसपास के 25 गांव आंदोलन में शामिल

मुख्यमंत्री के बयान के बाद शिर्डी समेत आसपास के 25 गांव के लोग आंदोलित हैं। उनका कहना है- ‘‘पाथरी के विकास से आपत्ति नहीं है, लेकिन उसे साईं की जन्मभूमि कहना ठीक नहीं है। इससे पहले भी साईं बाबा और उनके माता-पिता के बारे में कई गलत दावे किए जा चुके हैं।’’ उन्होंने चेतावनी दी- जब तक सीएम अपने बयान को वापस नहीं लेते, तब तक वह आंदोलित रहेंगे।

उद्धव ने पाथरी के लिए 100 करोड़ रुपएदेने की घोषणा की

साईं बाबा के जन्‍म स्‍थान को लेकर विवाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की घोषणा के बाद पैदा हुआ है। परभणी जिले का पाथरी शिरडी से करीब 275 किलोमीटर दूर स्थित है। ठाकरे ने इसे साईं की जन्मभूमि बताया और इसके विकास के लिए 100 करोड़ रुपएका ऐलान कर दिया। यूं तो साईं के जन्म को लेकर साफ जानकारी किसी को नहीं है, लेकिन कहा जाता है कि वह शिर्डीआकर बस गए और यहीं के होकर रह गए। इसके बाद से शिर्डीकी पहचान भी साईं से हो गई।

राकांपा नेता ने भी पाथरी को बता चुके हैं बाबा का जन्मस्थान

राकांपा नेता दुर्रानी अब्दुल्ला खान ने दावा किया थाकि उनके पास पाथरी को साईं बाबा का जन्मस्थान साबित करने के लिए पर्याप्त सुबूत हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जहां शिर्डी साईं बाबा की कर्मभूमि है, वहीं पाथरी जन्मभूमि है। दोनों जगहों का अपना महत्व है। देश-विदेश से पर्यटक पाथरी पहुंचते हैं, लेकिन वहां बुनियादी ढांचा नहीं है।’’खान ने यह भीकहा कि शिर्डी के लोगों के लिए कोष कोई मुद्दा नहीं है, वे बस यही चाहते हैं कि पाथरी को साईं बाबा का जन्मस्थान नहीं कहा जाए। शिर्डी के निवासियों को डर है कि यदि पाथरी मशहूर हो गया तो उनके कस्बे में श्रद्धालुओं का आना कम हो जाएगा।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0
Virat Kohli and Finch

भारत-ऑस्ट्रेलिया तीसरा और निर्णायक वनडे आज, उसके खिलाफ छठी सीरीज जीतने का मौका

अलीगढ़ में 70 महिलाओं के खिलाफ दर्ज हुई FIR, धारा 144 के बीच कर रहीं थी CAA के खिलाफ प्रदर्शन की कोशिश