in

निर्भया केस: दोषी अक्षय ने SC में दाखिल की क्यूरेटिव याचिका, मुकेश और विनय की पिटीशन कोर्ट पहले ही कर चुका है खारिज

निर्भया मामले में एक और दोषी अक्षय कुमार सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को क्यूरेटिव याचिका दाखिल की है. सुप्रीम कोर्ट इससे पहले सुप्रीम कोर्ट दो दोषियों विनय और मुकेश की क्यूरेटिव याचिका को खारिज कर चुका है.

  • एक दोषी अक्षय कुमार सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव याचिका दायर की
  • दो दोषियों विनय और मुकेश की क्यूरेटिव याचिका को खारिज कर चुका है कोर्ट
  • कोर्ट इस याचिका पर बुधवार को अपना फैसला सुना सकता है.

नई दिल्ली: निर्भया मामले में एक और दोषी अक्षय कुमार सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को क्यूरेटिव याचिका दाखिल की है. सुप्रीम कोर्ट इससे पहले सुप्रीम कोर्ट दो दोषियों विनय और मुकेश की क्यूरेटिव याचिका को खारिज कर चुका है. वहीं, निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले में दोषी मुकेश कुमार सिंह की दया याचिका खारिज करने के राष्ट्रपति के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई पूरी कर ली. कोर्ट इस याचिका पर बुधवार को अपना फैसला सुना सकता है. दिल्ली में 2012 में हुये इस जघन्य अपराध के लिये चार मुजरिमों को अदालत ने मौत की सजा सुनायी थी. इन दोषियों में से एक मुकेश की दया याचिका राष्ट्रपति ने 17 जनवरी को खारिज कर दी थी जिसके खिलाफ इस दोषी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर रखी है.

न्यायमूर्ति आर भानुमति, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति ए एस बोपन्ना की पीठ ने इस याचिका पर मुकेश कुमार सिंह की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अंजना प्रकाश और केन्द्र की ओर से सालिसीटर जनरल तुषार मेहता की दलीलें सुनने के बाद कहा कि इस पर निर्णय बुधवार को सुनाया जायेगा. केन्द्र ने मुकेश कुमार सिंह की याचिका खारिज करने का अनुरोध करते हुये पीठ से कहा कि इस तरह के जघन्य अपराध करने वाले के साथ जेल में दुर्व्यवहार दया का आधार नहीं हो सकता है

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

असदुद्दीन ओवैसी का अनुराग ठाकुर को चैलेंज- भारत में वह जगह बताए जहां आप मुझे गोली मारेंगे, मैं आने को तैयार

अरविंद केजरीवाल ने अमित शाह से पूछा- आप दिल्ली के लोगों से इतनी नफरत क्यों करते हैं? मनोज तिवारी ने दिया ये जवाब