in ,

5000 हजार के पार हुई इंदौर में कोरोना संक्रमितों की संख्या, रात में आई रिपोर्ट में 9 नए क्षेत्रों में पहुंचा वायरस

गुरुवार रात को 1461 सैंपलों की जांच की गई, जनमें से 44 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं, तीन मरीजों के मौत की भी पुष्टि की गई। हालांकि 1399 लोग निगेटिव पाए गए। चार रिपीट पाॅजिटिव आए, जबकि 14 सैंपल खारिज कर दिए गए। जिले में अब तक 98943 सैंपलों की काेरोना जांच की जा चुकी है इनमें से 5087 सैंपल पॉजिटिव मिले। वहीं, 258 मरीजों की वायरस से मौत हो चुकी है, जबकि 3946 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। अभी जिले में 883 कोरोना पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। देर रात आई रिपोर्ट में 9 नए क्षेत्रों में कोरोना मरीज मिले हैं। इनमें पिपलिया राव, पुवारदा सांवेर, अर्जुन बारोड़ा सांवेर, वार्ड-5 देपालपुर, आदर्श मोहल्ला भागोरा गांव, सिंगापुर टाउनशिप, साईंराम कॉलोनी, एमआर -9 महक वाटिका, बेलमॉट पार्क, खजुरिया गांव शामिल है।

किल कोरोना अभियान में अब तक 3 लाख 74 हजार 906 घरों का सर्वे हुआ

किल कोरोना अभियान के तहत 8 जुलाई तक इंदौर जिले में 3 लाख 74 हजार 906 घरों का सर्वे पूरा हो गया है। सर्वे में अभी तक कोविड के 2209 संदिग्ध सामने आ चुके हैं। डेंगू के 10, मलेरिया के 435 व 344 अन्य संदिग्ध हैं। सर्वे दलों द्वारा प्रारंभिक सर्वे के बाद अब फॉलोअप राउंड शुरू किया जा चुका है। इसमें ऐसे व्यक्तियों का पता लगाया जा रहा है, जिनमें बाद में लक्षण विकसित हुए हों। कलेक्टर मनीष सिंह ने कहा कि सर्वे के पहले चरण में ही मरीज चिह्नित करने की कोशिश की जा रही है क्योंकि यदि वायरस एक बार फेफड़ों में चला गया तो फिर सेहत के लिहाज से स्थिति संभालना मुश्किल हो जाती है, इसलिए लोगों से भी अपील है कि वह लक्षण दिखते ही तत्काल उपचार कराएं, सर्वे टीम को बताएं, फीवर क्लिनिक जाएं।

39 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर हुए डिस्चार्ज, देवास और महू के मरीज भी लौटे

अरबिंदो अस्पताल से गुरुवार को 39 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इन मरीजों में उज्जैन, महू के दो-दो, हरदा, खरगोन और देवास का एक-एक मरीज शामिल हैं। स्वस्थ हुए लोगों ने डाॅक्टर, नर्स एवं अन्य स्टाफ काे धन्यवाद कहा।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

खरगोन के नाबालिग को बहलाकर इंदौर ले आया झूलेवाला, पत्नी ने नाम बदलकर दी भीख मांगने की ट्रेनिंग, भीख कम मिलने पर पीटते थे

सीट बंटवारे को लेकर खींचतान जारी – दूसरी बार कैबिनेट बैठक निरस्त, नड्‌डा-सिंधिया में सहमति नहीं बनी