in

कांग्रेस की मांग पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा- हार के डर से कांग्रेस मतपत्र से कराना चाहती है निकाय चुनाव

  • कांग्रेस ने चुनाव आयोग को ज्ञापन सौंप निकाय चुनाव मतपत्रों से कराने की मांग की है
  • मप्र में होने हैं नगरीय निकाय चुनाव, दोनों मुख्य पार्टियों के बीच घमासान शुरू हो गई है

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने आगामी नगरीय निकाय चुनाव मतपत्र से कराए जाने की मांग पर कहा है कि कांग्रेस हार के डर से ईवीएम के स्थान पर मतपत्र से चुनाव कराना चाहती है। असल में, कांग्रेस ने मंगलवार को चुनाव आयोग को एक ज्ञापन देकर आगामी नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम के स्थान पर मतपत्र से कराए जाने की मांग की है।

राकेश सिंह ने पार्टी के प्रदेश कार्यालय में मीडिया से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जहां-जहां कांग्रेस की सरकार बन जाती है, वहां कांग्रेस की ईवीएम को लेकर कोई टिप्पणी नहीं होती और न ही कोई सवाल किए जाते हैं लेकिन जहां परिणाम कांग्रेस के अनुकूल नहीं आते हैं तो वहां ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत होती है। उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय चुनाव मतपत्र से कराए जाने की कांग्रेस की मांग का भाजपा पुरजोर विरोध करती है।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की हमेशा मांग रही है कि नगरीय निकाय चुनाव समय पर हो। लेकिन कांग्रेस चुनावी आंकलन को लेकर डरी हुई है। उन्होंने कहा कि इसलिए कांग्रेस सरकार ने महापौर और नगरपालिका अध्यक्षों के चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली से तय किए हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी शहर की जनता को अपने वोट से महापौर और अध्यक्ष को चुनने का अधिकार होता है।

कांग्रेस ने नगरीय निकाय चुनाव मतपत्रों से कराने की मांग की
कांग्रेस ने आगामी नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम के स्थान पर मतपत्र से कराए जाने की मांग की है। कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने इस संबंध में मंगलवार को राज्य निर्वाचन आयुक्त वीपी सिंह को ज्ञापन सौंपा है। कांग्रेस ने कहा गया है कि प्रदेश में आगामी नगरीय निकाय चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो रही है और पिछले चुनाव का मतदान ईवीएम मशीन द्वारा कराया गया था। 

वर्तमान परिस्थितियों में विधानसभा चुनाव 2018 एवं लोकसभा चुनाव 2019 में ईवीएम से संपन्न हुए मतदान का अनुभव संतोषजनक नहीं रहा, साथ ही प्रदेश के मतदाताओं में ईवीएम मशीन को लेकर कई प्रकार की भ्रांतियां हैं। ऐसे में मतदाताओं और कांग्रेस की मांग पर प्रदेश में होने वाले आगामी नगरीय निकाय के चुनाव का मतदान, ईवीएम मशीन के स्थान पर मतपत्र द्वारा ही कराए जाने की व्यवस्था की जाए। 

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

निर्भया के दोषियों ने 23 बार तोड़े जेल के नियम, एक लाख से ज्यादा कमाया मेहनताना

वीडियो में राहुल गांधी के लिए कहा था- आपकी पप्पूगीरी का विरोध करता हूं – प्रोफेसर को जबर्दस्ती छुट्टी पर भेजा गया