in

PM मोदी का ऐलान- अब डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम से जाना जाएगा कोलकाता पोर्ट, ममता बनर्जी ने किया कार्यक्रम से किनारा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के पश्चिम बंगाल दौरे का आज (रविवार) दूसरा दिन है. बीते शनिवार पीएम मोदी ने कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banarjee) से मुलाकात की थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के पश्चिम बंगाल दौरे का आज (रविवार) दूसरा दिन है. बीते शनिवार पीएम मोदी ने कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banarjee) से मुलाकात की थी. उन्होंने पीएम मोदी के सामने नागरिकता कानून (CAA), एनआरसी (NRC) और एनपीआर (NPR) का विरोध दर्ज कराते हुए CAA को वापस लेने की मांग की. इसके जवाब में पीएम मोदी ने उन्हें दिल्ली आकर इस मुद्दे पर बात करने के लिए कहा. पीएम मोदी ने शनिवार को हावड़ा ब्रिज के नाम से मशहूर रबींद्र सेतु के इंटरैक्टिव लाइट एंड साउंड शो का शुभारंभ किया. पीएम के रात्रि विश्राम का कार्यक्रम पहले राजभवन में आयोजित किया गया था लेकिन ऐन मौके पर इसे बदल दिया गया. पीएम मोदी ने रामकृष्ण मिशन के मुख्यालय बेलूर मठ में रात विश्राम किया. आज स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda Birth Anniversary) की जयंती है. सुबह पूजा-अर्चना के बाद पीएम मोदी मठ के साधु-संतों से मिले. वह विवेकानंद जयंती से जुड़े अन्य कार्यक्रमों में भी शामिल होंगे.

पीएम मोदी ने कहा, ‘इस वर्ष हल्दिया में मल्टीमॉडल टर्मिनल और फरक्का में नेविगेशनल लॉक को तैयार करने का प्रयास है. साल 2021 तक गंगा में बड़े जहाज भी चल सकें इसके लिए भी जरूरी गहराई बनाने का काम प्रगति पर है.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘जैसे ही पश्चिम बंगाल राज्य सरकार आयुष्मान भारत योजना, पीएम किसान सम्मान निधि के लिए स्वीकृति देगी, यहां के लोगों को इन योजनाओं का भी लाभ मिलने लगेगा.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल के विकास के लिए केंद्र सरकार की तरफ से हर संभव कोशिश की जा रही है. विशेष तौर पर गरीबों, दलितों, वंचितों, शोषितों और पिछड़ों के विकास के लिए समर्पित भाव से प्रयास किए जा रहे हैं.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘बाबा साहेब ने देश की पहली जल संसाधन नीति और श्रमिकों से जुड़े कानूनों को लेकर अपने अनुभवों का उपयोग किया था. देश में नदी घाटी परियोजनाओं, बांधों का, पोर्ट्स का निर्माण तेजी से हो पाया तो इसका बड़ा श्रेय दोनों महान सपूतों को जाता है.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘आज के इस अवसर पर मैं बाबा साहेब को भी याद करता हूं, उन्हें नमन करता हूं. डॉ. मुखर्जी और बाबा साहेब, दोनों ने स्वतंत्रता के बाद के भारत के लिए नई नीतियां और नया विजन दिया था. डॉ. मुखर्जी की बनाई पहली औद्योगिक नीति में देश के जल संसाधनों के उचित उपयोग पर जोर दिया गया था.’

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0
Congress Working Committee Meeting

CAA और NRC के खिलाफ कांग्रेस ने तैयारी की रणनीति, मोदी सरकार को घेरने की तैयारी

Tanhaji Box Office Collection Day 2- अजय देवगन की ‘तान्हाजी’ ने दूसरे दिन भी मचाया तहलका, कमाए इतने करोड़