in

अब 250 रुपये से खोले जा सकेंगे सुकन्या योजना के खाते

एक ओर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देकर समाज के लोगों को जागरूक करने का काम किया जा रहा है। घर-परिवार में जन्म लेने वाली बेटी के भविष्य को लेकर भारत सरकार ने काफी समय पहले सुकन्या योजना चालू की थी। इस योजना में जन्म लेने वाली बेटियों के नाम से खाते खुलवाए गए थे। अब सुकन्या योजना के खाते खुलवाने में कुछ बदलाव किया गया है। अभी तक इस योजना में खाता खोलने के लिए एक हजार रुपये की धनराशि जमा करनी पड़ती थी। मगर अब सुकन्या खाता खोलने के लिए सिर्फ 250 रुपये ही जमा करने होंगे। इससे सुकन्या योजना का लाभ अधिकाधिक मिल सकेगा। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेटी बचाओ-बेटी अभियान की शुरुआत की थी, जिसके तहत सुकन्या योजना लांच की गई थी, जिसमें शून्य से दस साल की बेटी का खाता खोला जा सकता है। इस योजना में अभिभावकों ने अपनी बेटियों के नाम खाता खोलकर  लाभ अर्जित किया। शुरुआती दौर में सुकन्या योजना में बेटी के नाम खाता खोलने के लिए एक हजार रुपये की धनराशि तय थी, जिसमें बदलाव कर दिया गया। अब सुकन्या योजना में प्रत्येक खाता खोलने पर अभिभावक को सिर्फ 250 रुपये ही जमा करने होंगे। इस बदलाव से सुकन्या योजना के खातों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो सकेगी। इस योजना में शून्य से दस साल तक की आयु की बालिका के नाम से खाता खुल सकता है, जो डाक विभाग और किसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक में सुविधा उपलब्ध है।

प्रधान डाकघर के पोस्टमास्टर परमानंद ने बताया कि अब सुकन्या योजना में खाता खोलने के नियम में बदलाव हुआ है। खाता खोलने के लिए 250 रुपये रखे गए हैं। इससे खाता खोलने वालों की संख्या में बढ़ोत्तरी होगी। योजना का लाभ परिवार को आसानी से मिल सकेगा। जनपद में सुकन्या योजना में करीब 25 हजार खाता है। उन्होंने बताया कि खाता में प्रत्येक वर्ष 250 रुपये जमा करना जरूरी है। अगर धनराशि जमा नहीं होती है, तो अगले साल पचास रुपये पेनाल्टी लगेगी। सुकन्या खाता खोलने के लिए माता अथवा पिता की दो आईडी जमा करनी होती है। इसके बाद बालिका के नाम खाता खोल दिया जाता है। जनपद में 14 उप डाकघर व 142 शाखा डाकघर संचालित हो रहे हैं।   

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

अगर भारत पाकिस्तान नहीं आएगा तो हम भी वर्ल्ड कप के टीम नहीं भेजेंगे’

वो कौन है? किन्नर जिसकी बात कभी नही काटते