in

मध्य प्रदेश में मंडला जिले में दो पक्षों के बीच विवाद में सात लोगों की हत्या

इनमें एक आरोपी को आक्रोशित लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

जिले बीजाडांडी थाना क्षेत्र में जमीन के विवाद को लेकर आज दो आरोपियों ने घर में घुसकर एक ही परिवार के छह सदस्यों की हत्या कर दी। इस बीच घटना को अंजाम देकर भाग रहे दोनों आरोपियों में से एक को आक्रोशित भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला।

बालाघाट रेंज के पुलिस महानिरीक्षक व्ही. राव ने बताया कि मंडला जिले के बीजाडांडी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम मनेरी के रहने वाले रज्जन सोनी के घर में रिश्तेदार हरीश और संतोष सोनी ने धारदार हथिहारों के साथ हमला कर दिया। दोनों आरोपी नशे में थे। दोनों ने विनोद सोनी (40), उसके 9 साल के बेटे ओम, बेटी प्रियांशी सहित, रानू (18), रज्जन सोनी तथा दीपक सोनी की हत्या कर दी। इसके अलावा  परिवार के पांच सदस्यों पर भी तलवार से जानलेवा हमला किया।

पुलिस अधीक्षक दीपक शुक्ला ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों आरोपियों ने भागने का प्रयास किया। इस बीच, एक आरोपी संतोष को भागते समय लोगों ने पकड़ लिया। आक्रोशित भीड़ ने उसके साथ जमकर मारपीट की। इस कारण उसे गंभीर चोटें आईं और अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई। दूसरे आरोपी ने पुलिस दल पर हमला कर भागने का प्रयास किया। चेतावनी के बावजूद भी वह भागने का प्रयास कर रहा था, जिससे पुलिस कर्मियों को उसके पैर में गोली मारनी पड़ी। उसे पकड़ लिया गया है।

घायल सदस्यों को उपचार के लिए जबलपुर मेडिकल काॅलेज भेजा गया है, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने पंचनामा कर शवों को पोस्टमाॅर्टम के लिए भिजवा दिया है। इस घटना से क्षेत्र में आक्रोश का माहौल बना हुआ है, जिसके चलते एहतियातन बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। दरअसल, रज्जन सोनी का पास में ही रहने वाले रिश्तेदारों हरिश और संतोष से जमीन का विवाद चल रहा था। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

हत्याकांड पर कमलनाथ ने दुख व्यक्त किया

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने ट्वीट करके मंडला जिले के मनेरी गांव में हुए वीभत्स हत्याकांड पर दुख और चिंता जताई है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

इंदौर में जेल रोड और सिंधी कॉलोनी 18 जुलाई तक लॉक – धार्मिक जुलूस की मनाही, मूर्ति स्थापना केवल घर पर

कोरोना संक्रमित व 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए भी पोस्टल बैलेट से वोट करने की सुविधा