in

भोेपाल / ठंडी हवाओं ने कंपाया, भगवान को सर्दी से बचाने हो रहे कई उपाय

भोपाल। राजधानी भोपाल सहित पूरे प्रदेश में कड़ाके की सर्दी का दौर जारी है। शहर में गुरुवार सुबह से ही तेज ठंडी हवाएं चल रही हैं। हर कोई मोटे-मोटे स्वेटर्स और जैकेट्स पहने नजर आ रहा है। सर्दी भी इतनी कि इंसान ही नहीं बल्कि भगवान भी यहां की सर्दी से नहीं बचे हैं। लेकिन भगवान के भक्तों ने अपने ईष्ट को सर्दी से बचाने के लिए पूरे इंतजाम कर लिए हैं और मंदिरों में भगवान को स्वेटर से लेकर गर्म शॉल तक पहनाए जा रहे हैं।

ये भी पढ़े

बीती रात 7 डिग्री तक बढ़ा तापमान, लेकिन सर्दी जस की तस; बारां में बरसे बादल

राजधानी के अधिकतर सभी मंदिरों में इन दिनों भगवान स्वेटर और शाल पहने नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं भगवान की दिनचर्या भी मंदिरों के पुजारियों ने बदल दी है। सुबह पांच बजे खुलने वाले मंदिर अब सात बजे के बाद ही खुल रहे हैं। रात को भी नौ बजे तक मंदिर के पट बंद कर दिए जा रहे हैं। इतना ही नहीं भगवान को गर्म पानी से स्नान कराया जा रहा है। और हर वो जतन किया जा रहा है जिससे ठाकुरजी का सर्दी से बचाव किया जा सके। 

राजधानी के कई मंदिरों में भगवान के सामने अलाव जा रहे तो कुछ मंदिरों में भगवान के सामने हीटर की व्यवस्था है। इसी तरह उनके प्रसाद के मैन्यू में बदलाव किया गया है। केसर का दूध औऱ बादाम का हलवे का भोग भगवान को लगाया जा रहा है। 

राजधानी के टिनशेड स्थित मां वैष्णो धाम आदर्श नौ दुर्गा मंदिर के व्यवस्थापक पंडित चंद्रशेखर तिवारी ने बताया कि मंदिरों में भी शीतलहर से भगवान को बचाने के लिए शाल उड़ाई गई है। जिस प्रकार मनुष्य को ठंड लगती है उसी प्रकार भगवान को जब हम प्राण प्रतिष्ठा करते हैं तो उन्हें सभी चीजों का आभास होता है। इसलिए भगवान की सेवा भी मौसम के हिसाब से करते हैं। 

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

मप्र / शिवराज सिंह का कमलनाथ सरकार को चैलेंज, कहा- अन्याय की अति हो गई है, अब मेरी लाश पर से गुजरकर जाना होगा

Coronavirus Symptoms: What Are They and Should I See a Doctor?