in ,

गोली से जख्मी युवक की इलाज के दौरान मौत.

शंभूगंज/फुल्लीडुमर (बांका) | हिटी

ईंगलिश मोड़ — शंभूगंज मुख्य पथ पर केंदुआर नगरडीह मोड़ के बीच पतवारा गांव के युवक आशीष पर हुई गोलीबारी मामले में जख्मी युवक की इलाज के दौरान मंगलवार को मौत हो गई । युवक को पटना से डाक्टर ने सिलीगुड़ी रेफर कर दिया था तथा रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना गांव पहुंचते ही परिवार सहित गांव में मातमी सन्नाटा छा गया। उक्त युवक की एक माह पूर्व खगड़िया जिले के अंजूली कुमारी से शादी हुई थी। घटना की सूचना मिलते ही नवविवाहिता अंजूली का रो— रोकर बुरा हाल हो गया है। वहीं देर रात आशीष का शव गांव पहुंचते ही परिवार में गमगीन माहौल व्याप्त हो गया है। विगत तीन दिनों से आशीष अस्पताल में जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहा था। बांका, भागलपुर, पटना के चक्कर में एक युवक दो दिनों तक तड़पता रहा लेकिन युवक के शरीर में गोली फंसी रही। मृतक के परिजनों ने बताया कि यदि समय पर आशीष के शरीर से गोली को बाहर निकाल दिया जाता तो युवक की जान बच सकती थी। कहा कि तीस घंटे से अधिक गोली शरीर के अंदर फंसे रहने से परिजन चिंतित हो उठे। आशीष की मौत से परिवार पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा। बुद्धन सिंह के चार संतानों में आशीष सबसे बड़ा था और बाकी दो पुत्र अमरजीत और अंकित छोटा है एवं एक बहन है। परिवार में सबसे बड़ा होने के कारण घर का सारा दारोमदार आशीष के उपर था। बताते चलें कि शनिवार की सुबह जमशेदपुर से जायलो गाड़ी से लौट रहे आशीष के उपर फुल्लीडुमर के नगरडीह मोड़ के समीप पूर्व से घात लगाए अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया। घटना को लेकर आशीष के ननिहाल का भूमि विवाद सहित अन्य बातें चर्चा का विषय बना हुआ है। थानाध्यक्ष उमेश प्रसाद ने बताया कि घटना क्षेत्र फुल्लीडुमर होने के कारण पोस्टमार्टम सहित अन्य सभी प्रक्रिया उक्त थाने से ही होगी। घटना को लेकर पंचायत के मुखिया सुषमा भारती , समाजसेवी ललन प्रसाद सिंह, राजेश सिंह , प्रोफेसर केडी सिंह सहित अन्य ने शोक संवेदना व्यक्त की है। इधर फुल्लीडुमर थानाध्यक्ष सफदल अली ने बताया कि युवक की मौत पटना से सिलिगुड़ी ले जाने के क्रम में हुई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

जो कहा, वो कर दिखाया: राम मंदिर की नींव रखने 29 साल बाद वापस अयोध्या पहुंचे PM मोदी.

अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन पर सचिन पायलट भी बोल उठे- जय श्रीराम!