in ,

इंदौर में ढाई साल की बेटी के सामने पति ने पत्नी और सास को मोगरी मारी, चाकू से गोदकर की हत्या

  • तलाक के केस, पारिवारिक विवाद में द्वारकापुरी क्षेत्र में आराेपी पिता ने ढाई साल की बेटी के सामने हमला कर मार डाला
  • करीब 4 साल पहले संदीप ने नीतू से प्रेम विवाह किया था, शादी के बाद से ही दोनों के बीच नहीं बन रही थी
आरोपी पति
आरोपी पति

तलाक को लेकर कोर्ट में चल रहे केस और पारिवारिक विवाद में एक व्यक्ति ने अपनी ढाई साल की बच्ची के सामने पत्नी व सास की चाकू मारकर हत्या कर दी। हत्या के लिए वह परिवार के कुछ सदस्यों के साथ पत्नी के मायके (नाना) के यहां पहुंचा था। नाना की मौजूदगी में ही उसने पहले घर की दहलीज पर पहले सास को पेट में चाकू घोंपे उसके बाद जान बचाकर भाग रही पत्नी को घर में घुसकर मोगरी व चाकू से हमला कर हत्या कर दी। नाना पर भी हमला करना चाहा, लेकिन लोग आए तो भाग निकला।

सीएसपी पुनीत गहलोद के मुताबिक घटना बुधवार शाम द्वारकापुरी 60 फीट रोड पर शनि मंदिर के पास हुई। शाम सवा 7 बजे के करीब बीच मकान नंबर 28 में कुछ दिन पहले ही किराये से रहने आई 50 वर्षीय पद्माबाई और उनकी बेटी नीतू (25) की चाकू व मोगरी से वार कर उनकी हत्या की गई है। हत्या को मृतका नीतू के पति संदीप सोनी ने अंजाम दिया। वह अपने कुछ रिश्तेदार के साथ हथियार लेकर घर में घुसा और नीतू से कोर्ट में चल रहे केस को लेकर विवाद करने लगा। घटना के वक्त नीतू की मां पद्मा और ढाई साल की बेटी सौम्या घर में ही मौजूद थी।

घटना के प्रत्यक्षदर्शी मृतका पद्मा के पिता व नीतू के नाना राजमल वर्मा हैं। उन्होंने बताया कि वे विज्ञापन की ट्राइसिकल गाड़ी चलाते हैं। बुधवार शाम को वे काम से घर लौटे और बेटी पद्मा को चाय बनाने के लिए कहा इसी दौरान नातिन नीतू घर में बच्ची के साथ आगे बैठी थी। तभी नीतू का पति संदीप आया और कोर्ट में चल रहे केस को लेकर विवाद करने लगा। पद्मा उसे समझाने गई तो उसने जेब से चाकू निकालकर उसके पेट में घोंप दिए। कई वार करने के बाद वह नीचे गिरी तो वह नीतू पर हमला करने दौड़ा। इसी दौरान उसके साथ आए कुछ रिश्तेदारों ने हाथ में डंडे ले रखे थे वह मुझे भी मारने दौड़े। नीतू घर की दहलीज पर बचने के लिए भागी तो वहां उसे पकड़ लिया और गाल व सीने में चाकू मारे और सिर में मोगरी से वार किए। वह बेहोश होकर गिर गई। बाद में आस-पास के कुछ लोगों ने हमला कर रहे संदीप को पकड़ा तो वह उन्हें भी चाकू दिखाकर छुटकर भाग निकला। घटना के बाद लोगों ने पुलिस को सूचना दी तो सबसे पहले 108 के ड्राइवर संजय मंडलोई और टेक्नीशियन सुनील कुमार पहुंचे उन्होंने बताया कि घायल पद्मा को पेट में चाकू लगे थे। उसने अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया वहीं नीतू ने दम तोड़ दिया था।

लव मैरिज के बाद से शुरू हो गया था विवाद
सीएसपी गहलोद ने बताया कि करीब 4 साल पहले संदीप ने नीतू से प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद से ही दोनों के बीच नहीं बन रही थी। दोनों में आए दिन विवाद होते थे। विवाद के बाद ही नीतू कुछ दिन पहले बेटी को लेकर मां (नाना) के यहां आ गई थी। यहां वह मां के साथ सिलाई का काम करती थी। वहीं आरोपी संदीप ठेकेदारी करता है। कोर्ट में चल रहे विवाद को लेकर वह नीतू से नाराज था। इसी विवाद में वह उसे समझाने आया था लेकिन विवाद हो जाने के बाद उसने तत्कालिक आवेश में आकर सास व पत्नी की हत्या कर दी। देर रात पुलिस की टीम ने संदीप की तलाश में कई जगह दबिशें दी उसके कुछ साथियों को हिरासत में लिया है। पुलिस को उसके अहम सुराग मिले हैं। जल्द गिरफ्तारी होगी। देर रात मामले में पुलिस ने संदीप व अन्य साथियों के खिलाफ हत्या का केस भी दर्ज कर लिया।

ढाई साल की मासूम मां के लिए रोती रही
नीतू की मौत के बाद उसकी ढाई साल की बेटी लगातार रोती रही। वह मां के बीना किसी के पास नहीं रह पा रही थी। बमुश्किल कालोनी के रहवासियों ने उसे बिस्कुट चाकलेट खिलाकर चुप करना चाहा लेकिन रह रह कर वह मां के लिए ही सिसक रही थी। उसे संभालना हर किसी के लिए मुश्किल था।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

अमेरिका-ईरान के तनावों के बीच भारतीय नौसेना ने खाड़ी में युद्धपोत और विमानों की तैनाती की

नोएडा के ESIC अस्पताल में लगी आग, सभी मरीजों को बाहर निकाला गया