in

chandra grahan 2020: 4 घंटे 5 मिनट तक रहेगा 10 जनवरी का चंद्र ग्रहण

chandra grahan 2020: साल 2020 का पहला ग्रहण चंद्र ग्रहण इसी सप्ताह 10 जनवरी (दिन- शुक्रवार) को पड़ेगा। यह चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को रात 10:37 बजे शुरू होगा और  02:42Am तक चलेगा। यानी यह पहला ग्रहण चार घंटे 5 मिनट तक चलेगा। लेकिन ज्योषिचार्यों का मानना है कि इस बार सूतक नहीं लगेगा। यानी मंदिरों के कपाट खुले रहेंगे। इसके बावजूद भी ग्रहण या उसके अगले दिन गंगा स्नान करना व पुण्य -दान मान्य होगा।

नहीं लगेगा सूतक काल : धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस तरह के ग्रहण को मांद्यचंद्र ग्रहण कहते हैं। चूंकि इस ग्रहण में चंद्रमा का कोई हिस्सा नहीं छिपेगा, बल्कि चांद मटमैला सा दिखेगा। इसलिए ज्योतिष इस तरह के ग्रहण को ग्रहण नहीं कहते। इसकी धार्मिक मान्यता नहीं है। इसलिए इस दौरान मंदिरों के कपाट बंद नहीं होंगे। वैसे ग्रहण में 9 घंटे पहले सूतक लग जाते हैं लेकिन इस बार ज्योतिषियों की मानें तो इस चंद्र ग्रहण में सूतक नहीं लगेंगे।


कहां दिखेगा चंद्र ग्रहण ?
इस बार का चंद्र ग्रहण भारत में देखा जा सकेगा। साथ ही यूरोप, एशिया अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया महाद्वीपों के कई इलाकों में देखा जा सकेगा। साल 2020 में चार चंद्रग्रहण हैं जिसमें से 10 जनवरी को होने वाला ग्रहण पहला चंद्रग्रहण होगा।

चंद्र ग्रहण का वैज्ञानिक कारण-
खगोल विज्ञान के अनुसार जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा एक सीध पर आते हैं और पृथ्वी की छाया चंद्रमा पर पड़ती है तो चंद्र ग्रहण होता है। इसी प्रकार जब सूर्य और पृथ्वी के बीच चंद्रमा आ जाता है और चंद्रमा की छाया पृथ्वी पर पड़ती है यानी सूर्य के प्रकाश को आशिंक या पूरा कुछ समय के लिए रोक लेती है तो सूर्य ग्रहण होता है। वैज्ञानिकों के अनुसार, ग्रहण एक सामान्य खगोलीय घटना है इसका किसी के जीवन पर बुरा या अच्छा  असर नहीं होता।


साल 2020 के आगामी ग्रहण-

10 जनवरी – चंद्र ग्रहण
5 जून – चंद्र ग्रहण
21 जून – सूर्य ग्रहण
5 जुलाई – चंद्र ग्रहण
30 नवंबर -चंद्र ग्रहण
14 दिसंबर – सूर्यग्रह

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

ChhappakVsTanhaji: मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने छपाक की तो बीजेपी ने तानाजी फिल्म की टिकट बांटी

दिल्ली पुलिस ने हिंसा भड़काने के मामले में छात्र संघ अध्यक्ष आइशी समेत 9 लोगों की पहचान उजागर की, किसी को हिरासत में नहीं लिया