in

कोरोनावायरस से बचाव के लिए आयुष मंत्रालय के अंतर्गत रिसर्च काउंसिल ने जारी की एडवाइजरी

how to save from coronavirus

कोरोनावायरस से बचाव के लिए आयुष मंत्रालय के अंतर्गत रिसर्च काउंसिल ने जारी की एडवाइजरी,होम्योपैथिक,यूनानी एवं आयुर्वेद दवाइयों से किया जा सकता है बचाव*

*कई सावधानियां भी रखने को कहा गया*
*(अनिकेत भारद्वाज)*

चीन के वुहान शहर से फैला रहा कोरोना वायरस (corona virus) अब तक करीब सैंकड़ों लोगों की जान ले चुका है. कोरोना वायरस के कई मामले चीन से बाहर दूसरे कई देशों में भी देखने को मिल रहे हैं. चीन की सीमाओं के बाहर वायरस का खतरा बढ़ते देख भारतीय हवाई अड्डों पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. जिसके तहत नागरिकों की एयरपोर्ट पर जांच की जा रही है।


अब आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) के अंतर्गत रिसर्च काउंसिल ने आयुर्वेद, होम्योपैथी और यूनानी चिकित्सा (Unani Medicines) के फायदों के फायदों के बारे में बताते हुए एडवाइजरी भी जारी की है.


*कोरोना वायरस के लिए बताई गईं सावधानियां-*
– स्वच्छ रहें और अपने आस-पास गंदगी न फैलने दें.
– करीब 20 सेकेंड तक साबुन से अच्छी तरह हाथ धोएं.
– 1 लीटर गर्म पानी में मुस्ता, पर्पत, उशीर और चंदन जैसी चीजों को मिलाकर बॉटल में रख लें और प्यास लगने पर इसे पीएं.
– आंख, नाक या मुंह पर हाथ लगाने के तुरंत बाद हाथ धोएं.
– रोगी व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें.
– खांसी या छींकते समय मुंह पर हाथ जरूर रखें. इसके बाद साबुन से हाथ अच्छी तरह धोएं.
– सार्वजनिक स्थल और कार्य स्थल के अलावा बाहर घूमते वक्त मुंह पर N95 मास्क जरूर पहनें.
– कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर मास्क पहनें और अपने नजदीकी अस्पताल में संपर्क करें.

*आयुर्वेद के इन नुस्खों को अपनाएं*
– इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाए रखने के लिए हेल्दी डाइट और लाइफस्टाल को फॉलो करें.

– 5 ग्राम अगस्त्य हरीतकी रोजाना दिन में 2 बार गर्म पानी के साथ लें.
– दिन में दो बार रोजाना 500 ग्राम संशमनी वटी का सेवन करें.
– काली मिर्च और अदरक से बने त्रिकटु का 5 ग्राम पाउडर तुलसी की 3 से 5 पत्तियों के साथ गर्म पानी में मिलाकर लें.
– अणु तेल और सीसम के तेल की दो-दो बूंदें रोजाना सुबह नाक में डालें.
*कोरोना वायरस में लाभकारी यूनानी दवाइयां*
– दिन में दो बार रोजाना 10 से 20 एमएल शर्बत उन्नब का सेवन करें.
– रोजाना 5 ग्राम तिरयाक नजला लें.
– 3-5 ग्राम खमीरा मरवारीद पीएं.
– रोगन बबूना या कफूरी बाम से सिर और छाती में मालिश करवाएं.
– अर्क अजीब की 4-8 बूंदें साफ पानी में मिलाकर पीएं.
*👉होम्योपैथिक के माध्यम से बचाव*
होम्योपैथी के माध्यम से कोरोना वायरस से भी बचाव किया जा सकता है।मंत्रालय ने यह सिफारिश की है कि संक्रमण के खिलाफ रोगनिरोधी दवा के रूप में होम्योपैथिक दवा आर्सेनिकम एल्बम 30 को रोजाना तीन दिनों तक खाली पेट लिया जा सकता है। परामर्श में कहा गया है कि अगर कोरोनावायरस संक्रमण फिर भी रहता है, तो इसी खुराक को एक महीने के बाद दोहराया जाना चाहिए।
उसमें कहा गया कि इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारी की रोकथाम के लिए भी इस दवा को ली जा सकती है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

कलेक्टर के हस्ताक्षर वाले 50-50 हजार के चेक से 8 पत्रकारों को रिश्वत!

20 Health Tips

स्वस्थ रहना है तो इन 20 बातों को अनदेखा न करें