in

वाराणसी / आईएसआई एजेंट गिरफ्तार, राम जन्मभूमि और मोदी की रैलियों के फोटो-वीडियो पाकिस्तान भेजता था

  • चंदौली जिले के मुगलसराय का रहने वाला है आरोपी, एजेंसी जांच में जुटी
  • सेना के साथ सीआरपीएफ के ठिकानों की सूचना आईएसआई को भेजता था
  • पाकिस्तान में बैठे हैंडलर के संपर्क में था, मोबाइल से मिले अहम सबूत
  • वाराणसी. उत्तर प्रदेश एटीएस और मिलिट्री अभिसूचना इकाई ने वाराणसी से आईएसआई एजेंट राशिद अहमद को गिरफ्तार किया है। राशिद सेना के अलावा सीआरपीएफ के ठिकानों की महत्वपूर्ण सूचनाएं आईएसआई को भेजता था। एटीएस ने राशिद के मोबाइल से महत्वपूर्ण सबूत जुटाए हैं। जांच में सामने आया है कि राशिद ने अयोध्या रामजन्मभूमि, फैजाबाद आर्मी क्षेत्र, अमेठी, प्रयागराज, वाराणसी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कई रैलियों की फोटो और वीडियो पाकिस्तान में बैठे हैंडलर को भेजे हैं।
  • एटीएस के इंस्पेक्टर शैलेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि मिलिट्री अभिसूचना इकाई द्वारा सूचना मिली थी कि वाराणसी का रहने वाला एक व्यक्ति मोबाइल से पाकिस्तानी आईएसआई एजेंटों के संपर्क में है। जांच की गई तो पता चला कि चंदौली जिले के मुगलसराय थाना इलाके के चौरहट पड़ाव गांव निवासी राशिद अहमद पुत्र इदरीश अहमद आईएसआई के संपर्क है। वह अपने फोन से सैन्य ठिकानों की फोटो खींचकर भेजता है। 

पाकिस्तान में आईएसआई एजेंट से मिल चुका राशिद

राशिद के पास से एक मोबाइल बरामद किया गया है। वह दो बार पाकिस्तान जा चुका है। आईएसआई एजेंटों से मिला था। आरोपी ने अभी तक कई महत्वपूर्ण स्थानों, आर्मी और सीआरपीएफ कैंपों की रेकी कर उनकी फोटो और वीडियो भेजे हैं। इसके एवज में आईएसआई एजेंटों ने आरोपी को रुपए और गिफ्ट भेजे हैं। 

राशिद को लखनऊ लाकर पूछताछ की जाएगी

अभी तक कितने स्थानों, कैंपों की रेकी कर फोटो भेजी गई है? कितनी बार रुपए और गिफ्टे मिले? कहां-कहां की फोटो और वीडियो भेजने की जिम्मेदारी दी गई थी? इस काम में कितने और साथी सम्मिलित हैं? इसकी जांच की जाएगी। राशिद को लखनऊ लाकर पूछताछ होगी। वह दो बार पाकिस्तान ट्रेनिंग के लिए जा चुका है। वह पाकिस्तान में बैठे हैंडलर के संपर्क में था। 

Report

What do you think?

Written by Bhanu Pratap

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

चुनाव / जेपी नड्डा भाजपा के 11वें राष्ट्रीय अध्यक्ष बने, शाह के बाद लगातार दूसरे ऐसे नेता जिन्हें यूपी में सफलता के बाद कमान मिली

परीक्षा के मोदी मंत्र / पीएम मोदी ने कहा, नाकामी ही सफलता का रास्ता दिखाती है, लेकिन रुके नहीं, जो रुका वो फेल