in

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का शूटर, मोस्ट वांटेड गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला पटना से गिरफ्तार

दाऊद इब्राहिम का शूटर और मोस्ट वांटेड गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला पटना के जक्कनपुर थानाक्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है।

अंडरवर्ल्‍ड सरगना दाऊद इब्राहिम का शूटर मोस्ट वांटेड गैंगस्टर एजाज लकड़ा को पटना पुलिस की मदद से मुंबई पुलिस ने पटना एयरपोर्ट के पास जक्कनपुर थानाक्षेत्र से गिरफ्तार किया है। उसके साथ दो अन्य लोगो को भी गिरफ्तार किया गया है। मुम्बई क्राइम ब्रांच से मिले इनपुट के आधार पर पुलिस ने यह कार्रवाई की है। गिरफ्तारी के बाद एजाज लकड़ावाला को पुलिस ने 21 जनवरी तक हिरासत में भेज दिया है।

पिछले काफी दिनों से पटना में रह रहा था एजाज लकड़ावाला 

कहा जा रहा है कि एजाज लकड़ावाला काफी दिनों से पटना के रिहायशी इलाके में रह रहा था। लेकिन, इसकी जानकारी किसी को नहीं थी। उसकी बेटी की गिरफ्तारी के बाद शायद यह राज खुला कि वह पटना में रह रहा था। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच इन मामलों की जांच कर रही थी और उसी सिलसिले में उसे कल पटना से अरेस्‍ट किया गया है। सूत्रों के मुताबिक, दाऊद लकड़ावाला के छोटा राजन से हाथ मिलाने की वजह से नाराज था। 

पुलिस से बचने के लिए भागता फिर रहा था एजाज

एजाज लकड़ावाला मुंबई के सबसे वांछित गैंगस्‍टरों में शामिल था और कभी छोटा राजन गैंग का मेंबर था। मुंबई और दिल्ली में उसपर 25 मामले दर्ज हैं,  जिनमें रंगदारी, वसूली, हत्या और फिरौती वसूलने के मामले शामिल हैं। पुलिस से बचने के लिए लकड़ावाला पिछले कई सालों में कभी यूएस, कभी मलेशिया, कभी यूके तो कभी नेपाल में भी रह चुका है। 

वर्ष 2003 में ऐसी अफवाह थी कि बैंकाक में दाऊद गिरोह के हमले में एजाज लकड़ावाला की मौत हो गई लेकिन वह बच गया था और ये बात अफवाह निकली थी। बताया जाता है कि वह बैंकाक से कनाडा चला गया और पिछले काफी समय से वहीं पर था, आज पुलिस ने उसे पटना से गिरफ्तार किया है।

कभी अस्पताल से भी भाग निकला था एजाज लकड़ावाला

कुख्यात गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला कभी मुंबई के जोगेश्वरी इलाके में रहता था। फिर देश-विदेश में छुपने के बाद एजाज कनाडा में रह रहा था। साल 2003 में एक हमले के बाद वह अस्पताल से फरार हो गया था, जिसके बाद 2004 के दौरान एजाज को कनाडा पुलिस ने उसे ओटावा से गिरफ्तार किया था।

गिरफ्तार होने के कुछ दिनों तक उसे जेल में रखने के बाद रिहा कर दिया गया था। जेल से रिहा होने के बाद वह कई साल तक अंडरग्राउंड रहा था। लेकिन, फिर साल 2008 में फिरौती के एक मामले में उसका हाथ होने की ख़बर एजेंसियों को मिली थी। मगर, तब से उसका कुछ पता नहीं चल सका था कि वो कहां छुपा है?

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0
Benefit of Garlic

खाली पेट लहसुन खाने से इन बिमारियों से मिलती है राहत।

दाऊद का करीबी रहा एजाज लकड़ावाला पटना से गिरफ्तार, 21 जनवरी तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया