in

झारखंड – सेना के जवान की मौत के बाद पार्थिव शरीर घर आया तो पत्नी ने कुएं में कूदकर जान दी; दोनों की अर्थी साथ उठी

  • अधिकारियों ने बताया- 29 दिसंबर की रात सोने के दौरान जवान की गिरने के मौत हुई थी
  • 1 जनवरी को पार्थिव शरीर जम्मू से गांव भेजा गया, अंतिम संस्कार से पहले पत्नी ने खुदकुशी की

जम्मू मेंतैनात सेना के 29 वर्षीय जवान बजरंग भगत का पार्थिव शरीर 1 जनवरी को झारखंड में अपने गांव बहेराटोली पहुंचा। लेकिन उसके अंतिम संस्कार से पहले ही पत्नी मनीत उरांव ने कुएं में कूदकर जान दे दी। इसके बाद पति-पत्नी की एक साथ अर्थी उठी और अंतिम संस्कार हुआ। दोनों की शादी 2 साल पहले ही हुई थी। सैन्य अधिकारियों के मुताबिक, बजरंग की मौत 29 दिसंबर की रात बिस्तर से गिरने के कारण हुई थी।

मनीता की मौत के बाद उसके परिजन ने बजरंग की बहन और जीजा पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया। उनका कहना है कि संतान नहीं होने पर ननद (बजरंग की बहन) मनीता को ताना देते रहती थी, जिससे तंग आकर उसने जान दी है। बजरंग के पिता का निधन पहले ही हो चुका है। पांच बहनों की शादी हो चुकी है। अब घर में उनकी बूढी मां है।

जम्मू में बिस्तर से गिरकर हुई थी बजरंग की मौत

बजरंग 2012 में सेना में भर्ती हुए थे। इसके बाद रेजिमेंटल सेंटर नागपुर की यूनिट 17 में गार्ड के पद पर तैनात थे। करीब 3 माह पहले उनकी पोस्टिंग जम्मू में हुई थी। यूनिट के सीओ कर्नल विजय सिंह ने फोन पर बताया कि सोने के दौरान बिस्तर से गिरने के कारण जवान की जान गई है। हालांकि, परिजन ने बताया कि 29 दिसंबर की रात 10 बजे बजरंग के मोबाइल पर बात हुई थी और सुबह 8 बजे अचानक फोन पर सूचना मिली कि बजरंग अब दुनिया में नहीं है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

कनॉट प्लेस में AAP का ‘फंड रेजिंग डिनर’ का आयोजन कल

सरकारी अस्पताल में एक और बच्ची ने दम तोड़ा, 34 दिन में 105 नवजातों की मौत; फिर भी प्रशासन ने मंत्री के स्वागत में ग्रीन कारपेट बिछाया