in ,

जीतू सोनी समेत अन्य के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कराने वाली महिला ने आईजी ऑफिस के सामने आत्मदाह का प्रयास किया

कई मामलों में फरार जीतू सोनी समेत 8 के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कराने वाली महिला ने शुक्रवार को आईजी ऑफिस के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। पीड़िता को मौके पर मौजूद पुलिसकर्मी ने आग लगाने से पहले पकड़ लिया। महिला पुलिस की जांच से नाराज बताई गई है। पीड़िता का आरोप है कि उसके केस को सीएसपी आजाद नगर द्वारा कमजोर किया जा रहा है। न्याय न मिलने के कारण उसने आईजी दफ्तर के बाहर आत्मदाह करने की कोशिश की है।

मुसाखेड़ी की रहने वाली 30 वर्षीय पीड़ित महिला ने बताया कि उसने 5 फरवरी 2020 को जीतू सोनी, उदयसिंह ठाकुर, सरपाल, दिलीप कंसाल, कृष्ण कुमार, भगत राम, अमरदीप उपाध्याय, दीपक यादव के खिलाफ थाना आजाद नगर में आईपीसी की धारा 354, 376, 376-डी, 120-बी, 420, 467, 468, 471 और एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज करवाया था। मामले में चार आरोपी जेल में हैं और 4 फरार है। 

पीड़िता के अनुसार, केस में तीन माह बाद पुलिस द्वारा चालान पेश किया गया है। इसमें आराेपियों पर संगीन अपराध की कुछ धाराएं हटा दी गई हैं जिससे केस कमजोर हो गया है। पीड़िता का आरोप है कि आरोपियों की पुलिस से सांठगांठ है जिसके चलते उसका केस कमजोर किया जा रहा है। पीड़िता ने आरोपियों पर धमकाने का आरोप भी लगाया है। वहीं, मामले की जानकारी मिलते ही संयोगीतागंज थाने के टीआई राजीव त्रिपाठी भी मौके पर पहुंचे। टीआई के अनुसार मामले में पुलिस निष्पक्ष कार्रवाई कर रही है।

Report

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

8 जून से बाबा महाकाल के दर्शन हाेंगे, नलखेड़ा में मां बगलामुखी भी भक्तों को दर्शन देंगी

भारतीय हज कमेटी ने कहा- सऊदी अफसरों ने अब तक कोई जानकारी नहीं दी